दुनिया: खालिस्तान समर्थकों ने भारतीय छात्र के साथ की मारपीट और जानें कोरियाई प्रायद्वीप मुद्दे पर चीन की प्रतिक्रिया

सिडनी के पश्चिमी उपनगर मेरीलैंड्स में शुक्रवार को खालिस्तान समर्थकों ने एक 23 वर्षीय भारतीय छात्र के साथ कथित तौर पर मारपीट की। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक सार्वजनिक बैठक में भाग लिया और कोरियाई प्रायद्वीप मुद्दे पर चीन की प्रतिक्रिया व्यक्त की।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

कोरियाई प्रायद्वीप मुद्दे पर चीन की प्रतिक्रिया

फोटो: IANS
फोटो: IANS

संयुक्त राष्ट्र स्थित चीनी स्थाई प्रतिनिधि चांग जून ने 13 जुलाई को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक सार्वजनिक बैठक में भाग लिया और कोरियाई प्रायद्वीप मुद्दे पर चीन की प्रतिक्रिया व्यक्त की। चांग जून ने कहा कि चीन हमेशा प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण, प्रायद्वीप पर शांति और स्थिरता बनाए रखने और बातचीत के माध्यम से मुद्दों के राजनीतिक समाधान का पालन करता रहा है। प्रायद्वीप मुद्दे में अब तक देरी हुई है। यह मूल रूप से एक राजनीतिक सुरक्षा मुद्दा है, और मूल शांति तंत्र की कमी में निहित है। अमेरिका और अन्य देश लंबे समय से डीपीआरके को सुरक्षा के लिए खतरा मानते रहे हैं और उस पर प्रतिबंध और दबाव लगाया गया है। डीपीआरके भारी सुरक्षा खतरों और जीवित रहने के दबाव का सामना कर रहा है, और डीपीआरके की वैध सुरक्षा चिंताओं का समाधान नहीं किया गया है। 

चांग जून ने कहा कि पिछली शताब्दी के 9वें दशक से प्रायद्वीप मुद्दे का इतिहास स्पष्ट रूप से दिखाता है कि प्रायद्वीप पर तनाव कम करने और राजनीतिक समाधान को बढ़ावा देने के लिए बातचीत और वार्ता ही एकमात्र सही और प्रभावी तरीका है। जब तक अमेरिका और डीपीआरके बातचीत और वार्ता फिर से शुरू करते हैं और एक-दूसरे के साथ आगे बढ़ते हैं, प्रायद्वीप पर स्थिति स्थिर रहेगी और प्रायद्वीप मुद्दे के राजनीतिक समाधान की उम्मीद बनी रहेगी। 

चीनी उद्यम से बना बांग्लादेश का पहला आधुनिक सीवेज निपटारा कारखाना

फोटो: IANS
फोटो: IANS

चीनी उद्यम से निर्मित बांग्लादेश दाशरकंदी सीवेज निपटारा कारखाना पूरा होने की रस्म धूमधाम से आयोजित हुई। यह बांग्लादेश का पहला आधुनिक सीवेज निपटारा कारखाना है। बांग्लादेश की प्रधान मंत्री हसीना और चीन राजदूत याओवन समेत कई मेहमान इस रस्म में उपस्थित हुए। प्रधान मंत्री हसीना ने भाषण देते हुए कहा कि दाशरकंदी सीवेज निपटारा कारखाने का संचालन बांग्लादेश में सीवेज निपटारा व्यवस्था की आम योजना के कार्यांवयन की शुरुआत है, जो संबंधित नदियों की जल गुणवत्ता के सुधार में अहम भूमिका निभाएगा।

चीनी राजदूत याओ वन ने बताया कि चीनी उद्यमों से निर्मित परियोजनाओं से बांग्लादेश के लिए 5 लाख 50 हजार रोजगार के मौके सृजित हुए हैं और कई अरब अमेरिकी डॉलर पूंजी लायी गयी है।


जकार्ता में चीन-आसियान (10+1) विदेश मंत्रियों की बैठक

फोटो: IANS
फोटो: IANS

चीन-आसियान (10+1) विदेश मंत्रियों की बैठक 13 जुलाई को इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में आयोजित हुई, जिसमें चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय समिति के विदेशी मामला कार्यालय के अध्यक्ष वांग यी, आसियान देशों के विदेश मंत्रियों, आसियान पर्यवेक्षकों और आसियान महासचिव ने भाग लिया।

वांग यी ने कहा कि चीन और आसियान ने "दक्षिण पूर्व एशिया में मित्रता और सहयोग संधि" के उद्देश्य और सिद्धांतों को सक्रिय रूप से लागू किया है, पारस्परिक रूप से लाभकारी सहयोग का सर्वांगीण तरीके से विस्तार किया है। दोनों पक्ष दीर्घकालिक अच्छे-पड़ोसी और मित्रता, समान विकास और समृद्धि के सही रास्ते पर सफलतापूर्वक चल पड़े हैं।
चीन और आसियान साझा भाग्य वाले समुदाय के निर्माण को बढ़ावा देने, "बेल्ट एंड रोड" का निर्माण करने, क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण को बढ़ावा देने और शांति व स्थिरता की नींव को मजबूत करने के लिए हाथ मिलाकर काम करते हैं।

सिडनी में खालिस्तान समर्थकों ने भारतीय छात्र के साथ की मारपीट

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सिडनी के पश्चिमी उपनगर मेरीलैंड्स में शुक्रवार को खालिस्तान समर्थकों ने एक 23 वर्षीय भारतीय छात्र के साथ कथित तौर पर मारपीट की। उसे लात-घूंसे मारे और धातु के खंभे की ओर जोर से धक्का दिया गया। एक मीडिया रिपोर्ट में ये जानकारी दी गई है। द ऑस्ट्रेलिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, छात्र, जो एक ड्राइवर के रूप में काम करता है, सुबह-सुबह काम पर जा रहा था। इस दौरान चार लोगों ने उस पर हमला कर दिया। 

पीड़ित छात्र ने न्यूज आउटलेट को बताया, ''जैसे ही मैं अपनी ड्राइविंग सीट पर बैठा, खालिस्तान समर्थक अचानक सामने आ गए। उनमें से एक ने मेरे वाहन का बायीं ओर का दरवाजा खोला और मेरी बायीं आंख के नीचे लोहे की रॉड से वार किया।''

उसने कहा कि उनमें से दो लोग अपने फोन पर हमले की वीडियो रिकॉर्डिंग कर रहे थे, जबकि चार-पांच लोग उन्हें मार रहे थे। उन्होंने कहा कि गुंडे बार-बार "खालिस्तान जिंदाबाद" के नारे लगा रहे थे। छात्र ने कहा, "सब कुछ पांच मिनट के भीतर हुआ और वे यह कहते हुए चले गए कि खालिस्तान मुद्दे का विरोध करने के लिए मेरे लिए यह सबक है, अगर नहीं तो वे मुझे इस तरह और सबक देने के लिए तैयार हैं।"


संघर्ष समाप्त करने के लिए सभी पक्षों के साथ काम करने को तैयार सूडान सरकार

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सूडानी सरकार ने अप्रैल में शुरू हुए संघर्ष को समाप्त करने के लिए सभी पक्षों के साथ काम करने की इच्छा जताई है, जिसमें हजारों लोग मारे गए हैं और लाखों लोग विस्थापित हुए हैं।समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने सॉवरेन काउंसिल के एक बयान के हवाले से कहा, "यदि विद्रोही मिलिशिया घरों, पड़ोस और सरकारी सुविधाओं पर हमलों के साथ-साथ लूटपाट को रोकने के लिए प्रतिबद्ध हैं तो सूडानी सशस्त्र बल (एसएएफ) तुरंत सैन्य अभियान रोकने के लिए तैयार है।" 

बयान में कहा गया है कि सरकार ने काहिरा में आयोजित सूडान के पड़ोसी देशों के शिखर सम्मेलन के नतीजों का भी स्वागत किया। साथ ही, ट्रांजिशन पीरियड के दौरान सरकार बनाने के लिए हिंसा रुकने पर जल्द से जल्द राजनीतिक बातचीत शुरू करने की आवश्यकता पर भी जोर दिया। इससे पहले गुरुवार को सूडान में जारी संघर्ष को खत्म करने के समाधान पर चर्चा के लिए काहिरा में एक शिखर सम्मेलन आयोजित किया गया था।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;