दुनिया: इटली के समुद्र में नाव डूबने से 100 से अधिक लोगों के मरने की आशंका और नेपाल में आने वाला है सियासी तूफान!

दक्षिणी इटली के समुद्र में नाव डूबने से बच्चों सहित 100 से अधिक लोगों के मरने की आशंका है। सीपीएन-यूएमएल ने नेपाल में पुष्प कमल दहल के नेतृत्व वाली सरकार छोड़ने का फैसला किया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

ब्रिटेन में कार हादसा, केरल के छात्रा की मौत

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ब्रिटेन में एक बस स्टॉप पर दुर्घटनाग्रस्त कार की चपेट में आने से केरल के 28 वर्षीय भारतीय छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। अथिरा अनिलकुमार लेली कुमारी को पिछले सप्ताह लीड्स में स्टेनिंगली रोड और कॉकशॉट लेन के जंक्शन पर हुई टक्कर के में मृत घोषित कर दिया गया।

अथिरा बस स्टॉप पर इंतजार कर रही थी तभी काले रंग की वोक्सवैगन गोल्फ ने टक्कर मार दी, इसके अलावा एक अन्य व्यक्ति भी हादसे की चपेट में आ गया, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। वेस्ट यॉर्कशायर पुलिस ने कहा, आपातकालीन सेवाएं तुरंत मौके पर पहुंची और देखा कि टक्कर के बाद दो पैदल यात्रियों को गंभीर चोटें आईं, हादसे में वोक्सवैगन गोल्फ कार शामिल थी, जिससे बस स्टॉप को भी नुकसान पहुंचा। गोल्फ चालक, 25 वर्षीय महिला, को गिरफ्तार किया गया, हालांकि उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया है और पूछताछ जारी है।

इटली प्रवासी नाव के मलबे में 100 से अधिक लोगों के मरने की आशंका

फोटो: IANS
फोटो: IANS

 दक्षिणी इटली के समुद्र में नाव डूबने से बच्चों सहित 100 से अधिक लोगों के मरने की आशंका है। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, कम से कम 62 प्रवासियों के मरने की पुष्टि हुई है, पीड़ितों में 12 बच्चे भी शामिल हैं।

करीब 200 लोगों को ले जाने वाला जहाज रविवार को क्रोटोन के पास उतरने की कोशिश के दौरान क्षतिग्रस्त हो गया। रिपोर्ट में कहा गया है कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान, सोमालिया, सीरिया, इराक और ईरान के लोग सवार थे। कैलाब्रिया क्षेत्र में पास के समुद्र तटीय रिजॉर्ट में समुद्र तट से शव बरामद किए गए। एक तटरक्षक बल ने कहा कि 80 लोग बच गए हैं, कुछ ऐसे भी हैं जो डूबने के बाद तट तक पहुंचने में कामयाब रहे। सीमा शुल्क पुलिस ने कहा कि एक उत्तरजीवी को प्रवासी तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।


टीएलपी ने पाकिस्तान में देशव्यापी बंद का आह्वान किया

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

पाकिस्तान में आसमान छूती महंगाई के खिलाफ तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) ने सोमवार को देशव्यापी बंद का आह्वान किया। समा टीवी के मुताबिक कराची, लाहौर, फैसलाबाद, मंडी बहाउद्दीन, बहावलपुर और चिचावतनी सहित देशभर के विभिन्न शहरों में हड़ताल देखी जा रही है।

नतीजतन, कई बाजार और पेट्रोल पंप बंद हो गए हैं, जिससे जनता को असुविधा हो रही है। यात्रियों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, क्योंकि परिवहन सेवाएं आंशिक रूप से निलंबित हैं। टीएलपी प्रमुख साद रिजवी ने दावा किया कि हड़ताल के उनकेआह्वान का देश के हर कोने से समर्थन मिला। उन्होंने कहा कि टीएलपी पाकिस्तानियों के अधिकारों के लिए आवाज उठा रही है। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं और पेट्रोलियम उत्पादों की आसमान छूती कीमतों के कारण टीएलपी को हड़ताल का आह्वान करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

अमेरिकी नागरिकों ने 2022 में घोटालों में गंवाए 8.8 अरब डॉलर : रिपोर्ट

फोटो: IANS
फोटो: IANS

अमेरिका में उपभोक्ताओं को 2022 में घोटालों के कारण करीब 8.8 अरब डॉलर का नुकसान हुआ, जो पिछले साल की तुलना में 30 फीसदी अधिक है, एक नई रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। यूएस फेडरल ट्रेड कमिशन (एफटीसी) के अनुसार, उपभोक्ताओं ने 2022 में किसी भी अन्य श्रेणी की तुलना में निवेश घोटालों में अधिक धन गंवाने की सूचना दी- 3.8 बिलियन डॉलर से अधिक। यह राशि 2021 में खोई हुई राशि की दोगुनी से अधिक है।

इसके अलावा, रिपोर्ट से पता चला है कि धोखेबाज घोटालों के कारण दूसरी सबसे बड़ी हानि राशि हुई है- 2.6 बिलियन डॉलर, जो 2021 में 2.4 बिलियन डॉलर से अधिक है। प्राइज, स्वीपस्टेक्स, लॉटरी, निवेश से संबंधित घोटाले, और व्यापार और नौकरी के अवसर धोखाधड़ी की शीर्ष पांच श्रेणियों में शामिल हैं।


यूएमएल ने नेपाल सरकार से समर्थन वापस लिया

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सीपीएन-यूएमएल ने नेपाल में पुष्प कमल दहल के नेतृत्व वाली सरकार छोड़ने का फैसला किया है। सोमवार सुबह हुई पार्टी की सचिवालय बैठक में समर्थन वापस लेने के बाद सरकार छोड़ने का फैसला किया गया। यह फैसला 9 मार्च को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले बदले हुए राजनीतिक समीकरण के मद्देनजर आया है।

दहल द्वारा नेपाली कांग्रेस, सीपीएन (यूनिफाइड सोशलिस्ट) और जनता समाजवादी पार्टी के साथ हाथ मिलाने के बाद भी पार्टी का फैसला आगामी राष्ट्रपति चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री और नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष शेर बहादुर देउबा के नेतृत्व में गठित तत्कालीन सत्तारूढ़ गठबंधन को पुनर्जीवित करने के लिए आया है।

यूएमएल और सीपीएन (माओवादी सेंटर) के बीच संबंधों में खटास तब आ गई जब माओवादी सेंटर के अध्यक्ष प्रचंड ने नेपाली कांग्रेस के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का समर्थन करने का फैसला किया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;