दुनिया: गाजा में यहूदियों को बसाने की तैयारी? और शेख हसीना ने बीएनपी, जमात से कहा: माफी मांगें और चुनाव में हिस्सा लें

इजरायल में कई दक्षिणपंथी संगठनों ने गाजा में यहूदी लोगों को बसाने की अनुमति देने के लिए नेतन्याहू सरकार पर दबाव बढ़ाना शुरू कर दिया है। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने बीएनपी को देश से माफी मांगने और आगामी आम चुनाव में हिस्सा लेने को कहा है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

शेख हसीना ने बीएनपी, जमात से कहा: माफी मांगें और चुनाव में हिस्सा लें

दुनिया: गाजा में यहूदियों को बसाने की तैयारी? और शेख हसीना ने बीएनपी, जमात से कहा: माफी मांगें और चुनाव में हिस्सा लें

 बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने शुक्रवार को कहा कि मुख्य विपक्षी दल बीएनपी को जमात-ए-इस्लामी के साथ मिलकर हत्याओं के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए और आगामी आम चुनाव में हिस्सा लेना चाहिए।

प्रधानमंत्री ने बांग्लादेश आवामी लीग की चुनाव संचालन समिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, "उन्हें (बीएनपी और जमात) अपने अपराधों के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए और फिर आगामी राष्ट्रीय चुनावों में भाग लेना चाहिए।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन्होंने आम लोगों को मारा है उन्हें लोग वोट क्यों देंगे और लोग उन पर भरोसा क्यों करेंगे। उन्‍होंने कहा, “लोग उन पर भरोसा नहीं करते। उनकी पहचान हत्यारों और साजिशकर्ताओं के रूप में हो गई है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि चुनाव लोगों का संवैधानिक अधिकार है और चुनाव का दरवाजा सभी के लिए खुला है। उन्होंने लोगों से सहयोग भी मांगा ताकि चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से और समय पर हो सके।

अलबामा राज्य से कांग्रेस के लिए चुनाव लड़ने को तैयार भारतीय-अमेरिकी व्यवसायी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

 एक भारतीय-अमेरिकी व्यवसायी और रियल एस्टेट ब्रोकर 21 उम्मीदवारों के साथ अलबामा राज्य से कांग्रेस के लिए चुनाव लड़ने को तैयार हैं। 39 वर्षीय विमल पटेल अगले साल 5 मार्च को होने वाले प्राथमिक चुनाव में 13 डेमोक्रेट और आठ रिपब्लिकन के साथ उस जिले के लिए चुनाव लड़ेंगे, जो दक्षिण अलबामा में फैला है और इसमें मोंटगोमरी काउंटी और मोबाइल काउंटी का एक हिस्सा शामिल है।

उन्‍होंने कहा, ''आप देखिए, क्वालिफाई करने के बाद मैं काम पर वापस आ गया। मैं करियर राजनीतिज्ञ नहीं हूं। मुझे चिंता है कि ये करियर राजनेता क्या कर रहे हैं और यदि आप भी चिंता करते हैं तो हमें इसे ठीक करने के लिए आगे आना चाहिए।''

पटेल ने फेसबुक पर लिखा, हमारे पास यहां सर्वसम्मति से उम्मीदवार चुनने का अवसर है जो व्यवस्था को हिला देगा।


चीनी राष्ट्रपति ने की जापानी प्रधानमंत्री से मुलाकात

फोटो: IANS
फोटो: IANS

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 16 नवंबर की दोपहर को अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा से मुलाकात की। मुलाकात में शी चिनफिंग ने कहा कि पिछले साल नवंबर को, वे दोनों एपेक बैंकॉक बैठक के दौरान मिले और द्विपक्षीय संबंधों के रणनीतिक और दिशात्मक मुद्दों पर विचार-विमर्श किया और कुछ महत्वपूर्ण सहमति पर पहुंचे थे।

इस वर्ष चीन और जापान के बीच शांति और मित्रता की संधि पर हस्ताक्षर की 45वीं वर्षगांठ है। इस संधि ने कानूनी रूप में चीन और जापान के बीच शांति, मित्रता और सहयोग की सामान्य दिशा स्थापित की, आधिपत्यवाद के विरोध पर जोर दिया और द्विपक्षीय संबंधों के इतिहास में एक मील का पत्थर बन गई।

पिछले 45 वर्षों में, दोनों देशों के बीच संबंधों में उतार-चढ़ाव का अनुभव हुआ है, लेकिन आम तौर पर विकास की गति बनी रही है, जिससे लोगों को लाभ हुआ है। दोनों देशों ने क्षेत्रीय शांति, विकास और समृद्धि को बढ़ावा देने में भी सकारात्मक भूमिका निभाई है।

'युद्ध समाप्त होने के बाद गाजा में यहूदियों को बसाने की अनुमति दें'

फोटो: IANS
फोटो: IANS

इजरायल में कई दक्षिणपंथी संगठनों ने युद्ध समाप्त होने के बाद गाजा में यहूदी लोगों को बसाने की अनुमति देने के लिए बेंजामिन नेतन्याहू सरकार पर दबाव बढ़ाना शुरू कर दिया है।

उन्होंने कहा कि यहूदी लोगों का बसना क्षेत्र में सुरक्षा से जुड़ा हुआ है। उन्होंने सरकार से युद्ध समाप्त होने के तुरंत बाद क्षेत्रों में यहूदी आबादी को फिर से बसाने का आह्वान किया।

दक्षिणपंथी संगठनों के गठबंधन ने इज़रायल सरकार से कहा है कि वह पहले कदम के रूप में उत्तरी गाजा में पुनर्वास के लिए पहल करे और फिर इसे नित्ज़न, एल सिनाई और डुगिट जैसी पूर्व यहूदी बस्तियों तक विस्तारित करे जो अश्कलोन के करीब हैं।


बड़े पैमाने पर परमाणु ऊर्जा विस्तार की योजना बना रहा है स्वीडन

फोटो: IANS
फोटो: IANS

स्वीडन सरकार नई परमाणु ऊर्जा को बड़े पैमाने पर विस्तार करनेे की योजना बना रही है। इसको लेकर सरकार ने कहा कि 2045 तक वह चाहती है कि देश में 10 नए रिएक्टर हो, जिनमें से दो 2035 तक चालू हो जाएंगे।

ऊर्जा मंत्री एब्बा बुश ने एक संवाददाता सम्मेलन में 100 प्रतिशत नवीकरणीय से 100 प्रतिशत जीवाश्म-मुक्त बिजली उत्पादन में नीति बदलाव की रूपरेखा बताते हुए कहा, इसका मतलब स्वीडन की ऊर्जा नीति का एक ऐतिहासिक पुनर्गठन होगा।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने मंत्री के हवाले से कहा, "हमें 25 साल के भीतर बिजली उत्पादन दोगुना करना है।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;