दुनिया: यूक्रेन के हमले के बाद युद्ध का सबसे घातक दिन झेल रहा रूस और पाक मंत्री के बयान पर भड़का तालिबान

यूक्रेन द्वारा बड़े पैमाने पर किए गए हमले के बाद रूस युद्ध के अपने अब तक के सबसे घातक दिन का सामना कर रहा है। अफगानिस्तान के अंदर टीटीपी के ठिकानों को निशाना बनाने के पाक मंत्री राणा सनाउल्लाह के बयान पर तालिबान भड़क गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पुतिन के भाषण के दौरान यूक्रेन के हमले के बाद रूस युद्ध का सबसे घातक दिन झेल रहा

पुतिन के नए साल की पूर्व संध्या पर भाषण के दौरान यूक्रेन द्वारा बड़े पैमाने पर किए गए हमले के बाद रूस युद्ध के अपने अब तक के सबसे घातक दिन का सामना कर रहा है। आधी रात को घड़ी बजने से ठीक पहले डोनबास क्षेत्र में एक बैरक पर यूक्रेनी हमले में सैकड़ों लामबंद सैनिकों की मौत हो गई।

द सन यूके की रिपोर्ट के मुताबिक, घातक हमला उस जगह से 115 मील दूर था, जहां से पुतिन ने रूस के रोस्तोव क्षेत्र में दर्जनों सैनिकों के साथ अपने नए साल के संदेश को पूर्व-रिकॉर्ड किया था। अपने भाषण के दौरान, उन्होंने दावा किया कि पश्चिम रूस को कमजोर करने और विभाजित करने के लिए यूक्रेन और उसके लोगों का उपयोग कर रहा है।

रूस ने हमले में मारे गए सैनिकों की संख्या को छिपाने का प्रयास किया, लेकिन यूक्रेन की सेना ने रूसी मौतों की संख्या 400 बताई, जबकि 300 अन्य घायल हुए। मॉस्को ने महत्वपूर्ण जीवन की हानि की पुष्टि की, जो पहले से ही थके हुए रूसी सैनिकों के लिए एक गंभीर झटका था।

पाकिस्तान ने साल 2022 में आतंकी हमलों में 28 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी : रिपोर्ट

दुनिया: यूक्रेन के हमले के बाद युद्ध का सबसे घातक दिन झेल रहा रूस और पाक मंत्री के बयान पर भड़का तालिबान

भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान में साल 2022 में आतंकवादी हमलों में 2021 की तुलना में 28 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई है। सोमवार को प्रकाशित एक रिपोर्ट में यह जानकारी साझा की गई है। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान इंस्टीट्यूट फॉर कॉन्फ्लिक्ट एंड सिक्योरिटी स्टडीज (पीआईसीएसएस) द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार, आतंकवादियों ने पिछले साल 376 आतंकी हमले किए, जिसमें 533 लोग मारे गए और 832 अन्य लोग घायल हुए।

रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2022 के दौरान हुए हमले भी पिछले पांच वर्षों के दौरान सबसे अधिक आतंकवादी हमले हैं। साल 2017 के बाद यह पहली बार है कि देश ने एक साल में 300 से अधिक आतंकवादी हमलों का सामना किया है और 2018 के बाद पहली बार 500 से अधिक लोगों की मौत हुई है।


वेस्ट बैंक में इजरायली सैनिकों के साथ संघर्ष में मारे गए 2 फिलिस्तीनी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

वेस्ट बैंक में इजरायली सैनिकों के साथ संघर्ष में सोमवार को दो फलस्तीनी मारे गए। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना जेनिन शहर के पश्चिम में कफर दान गांव में हुई।

शहर के इब्न सिना अस्पताल के निदेशक समीर अटेया ने संवाददाताओं को बताया कि गांव पर इजरायली सेना के हमले के दौरान आठ अन्य फिलिस्तीनी भी घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि इजरायली सैन्य दल ने यहूदी बयान के खिलाफ हमले करने के लिए वांछित फिलिस्तीनियों को गिरफ्तार करने के लिए गांव पर धावा बोल दिया।

ऑस्ट्रेलिया में दो हेलिकॉप्टरों की टक्कर में चार लोगों की मौत, तीन की हालत गंभीर

स्ट्रेलियाई राज्य क्वींसलैंड के गोल्ड कोस्ट में सोमवार को दो हेलीकॉप्टरों की टक्कर में चार लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है। अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है।

क्वींसलैंड पुलिस दक्षिण पूर्वी क्षेत्रीय ड्यूटी अधिकारी गैरी वॉरेल ने संवाददाताओं से कहा, "आज अपराह्न् लगभग 2 बजे पुलिस और आपातकालीन सेवाओं को ब्रॉडवाटर में सी-वर्ल्ड के ठीक विपरीत हवा में दो-हेलीकॉप्टर की टक्कर के बाद बुलाया गया, जब दो विमान आपस टकरा गए और दुर्घटनाग्रस्त हो गए और सी वर्ल्ड रिसॉर्ट से बाहर सैंडबैंक पर उतर गए।"

शिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, एक एयरफ्रेम की विंडस्क्रीन को हटा दिया गया और द्वीप पर सुरक्षित रूप से उतरा, जबकि दूसरा दुर्घटनाग्रस्त हो गया।


पाक मंत्री की टिप्पणी को तालिबान ने बताया भड़काऊ

फोटो: IANS
फोटो: IANS

अफगानिस्तान के अंदर तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के ठिकानों को निशाना बनाने के पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए काबुल में तालिबान सरकार ने कहा कि वह किसी को भी इस्लामिक अमीरात पर हमला करने की इजाजत नहीं देगी। जियो न्यूज ने बताया कि मंत्री ने एक पाकिस्तानी समाचार चैनल के साथ एक साक्षात्कार में कहा था कि अगर काबुल ने टीटीपी को खत्म करने के लिए कार्रवाई नहीं की तो इस्लामाबाद अफगानिस्तान में टीटीपी को निशाना बना सकता है।

सनाउल्लाह ने कहा था, जब ये समस्याएं पैदा होती हैं, तो हम सबसे पहले अपने इस्लामिक भाई देश अफगानिस्तान से इन ठिकानों को खत्म करने और इन लोगों को हमें सौंपने के लिए कहते हैं, लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है, तो आपने जो कहा है, वह संभव है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;