दुनिया: शी चिनफिंग ने मोहम्मद मुइज़ को मालदीव के राष्ट्रपति बनने की दी बधाई और नेपाल में आया 5.3 तीव्रता का भूकंप

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने मालदीव के राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने पर मोहम्मद मुइज़ को फोन पर बधाई दी। नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप निगरानी और अनुसंधान केंद्र के अनुसार, नेपाल में मंगलवार दोपहर 5.3 तीव्रता का भूकंप आया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

राष्ट्रपति पद की अगली बहस के लिए केवल चार उम्मीदवार चाहते हैं रामास्वामी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

भारतीय-अमेरिकी उद्यमी विवेक रामास्वामी की टीम ने रिपब्लिकन नेशनल कमेटी (आरएनसी) से पार्टी के अगले राष्ट्रपति पद के लिए 8 नवंबर को मियामी में होने वाली बहस के लिए उम्मीदवारों की संख्या सीमित करने के लिए कहा है।

सीबीएस न्यूज के मुताबिक‍ आरएनसी अध्यक्ष रोना मैकडैनियल को लिखे पत्र में, राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार ने पार्टी से पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अलावा केवल शीर्ष चार उम्मीदवारों को बहस के मंच पर अनुमति देने के लिए कहा है।

रामास्वामी के अभियान के सीईओ बेन योहो ने पत्र में लिखा, "नवंबर में एक और बेकार बहस कोई विकल्प नहीं है।" उन्होंने कहा, " सफलता की न्यूनतम संभावना वाले उम्मीदवारों का शोर-शराबा होता है, जबकि प्रबल दावेदार उसी मंच के केंद्र से अनुपस्थित होते हैं, तो मतदाताओं की अच्छी तरह से सेवा नहीं की जाती है।"

योहो ने "उम्मीदवारों को अपने प्रतिस्पर्धियों को जवाब देने के लिए अधिक समय देने" और एकल बहस मॉडरेटर के लिए भी अनुरोध किया "जो बहस के नियमों को लागू करने में सक्षम हों और उम्मीदवारों को एक-दूसरे पर अंधाधुंध चिल्लाने से बचा सकें।"

शी चिनफिंग ने मोहम्मद मुइज़ को मालदीव के राष्ट्रपति बनने की बधाई दी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने मालदीव के राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने पर मोहम्मद मुइज़ को फोन पर बधाई दी। शी चिनफिंग ने कहा कि चीन और मालदीव के बीच मैत्रीपूर्ण आदान-प्रदान का एक लंबा इतिहास रहा है। चीन और मालदीव न केवल सच्चे आपसी विश्वास और आपसी मदद वाले दोस्त हैं, बल्कि विकास और आम समृद्धि के लिए मिलकर काम करने वाले साझेदार भी हैं।

मैं चीन-मालदीव संबंधों के विकास को बहुत महत्व देता हूं, और पारंपरिक मित्रता को आगे बढ़ाने, व्यावहारिक सहयोग को गहरा करने और दोनों देशों के बीच भविष्य-उन्मुख व्यापक मैत्रीपूर्ण सहकारी साझेदारी को बढ़ावा देने में लगातार नई उपलब्धियां हासिल करने के लिए निर्वाचित राष्ट्रपति मुइज़ के साथ काम करने को तैयार हूं।


नीजर ने मौजूदा संकट में मध्यस्थता करने के अल्जीरिया के प्रस्ताव को किया स्वीकार

फोटो: IANS
फोटो: IANS

 पश्चिमी अफ्रीकी देश नीजर ने अल्जीरिया के मध्यस्थता प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है, जिसका उद्देश्य देश में चल रहे संकट का राजनीतिक समाधान ढूंढना है। अल्जीरियाई विदेश मंत्रालय ने एक बयान में इसकी घोषणा की है।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने सोमवार को जारी बयान का हवाला देते हुए बताया कि नाीजर द्वारा अल्जीरिया के मध्यस्थता प्रस्ताव को स्वीकार करने के बाद, अल्जीरियाई राष्ट्रपति अब्देलमदजीद तेब्बौने ने विदेश मंत्री को सभी संबंधित पक्षों के साथ वार्ता शुरू करने के लिए नीजर की राजधानी नियामी की यात्रा करने का निर्देश दिया है।

अल्जीरिया के विदेश मामलों और राष्ट्रीय समुदाय के मंत्री अहमद अत्ताफ ने अगस्त में कहा था कि उनके देश ने पड़ोसी नीजर में चल रहे संकट के समाधान के लिए एक राजनीतिक समाधान पेश किया है। इसका प्राथमिक उद्देश्य एक राजनीतिक समाधान तैयार करने और लागू करने के लिए छह महीने की समय-सीमा स्थापित करना है जो नीजर में संवैधानिक और लोकतांत्रिक शासन की वापसी सुनिश्चित करता है।

संभावित प्रवासी आगमन के लिए तैयारी कर रहा फ़िनलैंड

फोटो: IANS
फोटो: IANS

फिनलैंड ने देश में प्रवासियों के संभावित आगमन की तैयारी के लिए एलएटीयू 23 नाम से पांच दिवसीय संयुक्त तैयारी अभ्यास शुरू किया है। सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने सोमवार को फिनिश बॉर्डर गार्ड के हवाले से कहा कि यूरोपीय सीमा और तट रक्षक एजेंसी (फ्रंटेक्स), यूरोपीय संघ एसाइलम एजेंसी और एस्टोनियाई पुलिस और बॉर्डर गार्ड के अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि विभिन्न फिनिश सरकारी एजेंसियों के साथ अभ्यास में भाग ले रहे हैं।

जुलाई 2022 में, फ़िनलैंड की संसद ने देश के सीमा कानूनों में बदलाव को मंजूरी दी थी, जिससे अधिकारियों को असाधारण परिस्थितियों में सीमाओं को बंद करने या सीमा प्रवेश बिंदुओं की संख्या को सीमित करने में सक्षम बनाया गया था। फिनिश सार्वजनिक प्रसारक येल के अनुसार, 2015 के यूरोपीय प्रवासी संकट के दौरान, मध्य पूर्व, अफ्रीका और दक्षिण एशिया से शरण चाहने वाले लगभग 32,000 लोग फिनलैंड पहुंचे।


नेपाल में आया 5.3 तीव्रता का भूकंप, दिल्ली-एनसीआर तक महसूस किए गए झटके

नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप निगरानी और अनुसंधान केंद्र के अनुसार, नेपाल में मंगलवार दोपहर 5.3 तीव्रता का भूकंप आया। इस भूकंप के झटके दिल्ली-एनसीआर तक महसूस किए गए।भूकंप दोपहर 2.40 बजे आया, जिसका केंद्र तालकोट, बझांग में दर्ज किया गया।

नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप निगरानी और अनुसंधान केंद्र ने भूकंप की तीव्रता 5.3 बताई है, जबकि भारत के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) ने कहा कि रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 6.2 मापी गई। भूकंप के झटके राजधानी काठमांडू के साथ-साथ इसके पड़ोसी जिले डोटी, अछाम, बाजुरा और सुदूर पश्चिम प्रांत के अन्य इलाकों में भी महसूस किए गए। लगातार आ रहे झटकों के चलते लोग सुरक्षा उपाय के रूप में घरों और इमारतों से बाहर निकल गए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;