दुनिया की 5 बड़ी खबरें: अमेरिकी दूतावास के कर्मचारियों को छोड़ना होगा रूस और जानें चीन के विकास का क्या है रहस्य?

2021 चीन को समझें नामक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 1 से 4 दिसम्बर को दक्षिण चीन के क्वांगचो में आयोजित हो रहा है। रूसी राजनयिकों को निष्कासित करने के वाशिंगटन के फैसले के जवाब में कहा है कि अमेरिकी दूतावास के कुछ कर्मचारियों को दो महीने में रूस छोड़ना होगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

चीन के विकास का क्या है रहस्य?

2021 चीन को समझें नामक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 1 से 4 दिसम्बर को दक्षिण चीन के क्वांगचो में आयोजित हो रहा है। हाल में सीएमजी के पत्रकार ने इस सम्मेलन की संयुक्त आयोजन संस्थाओं में से एक चीनी राष्ट्रीय नवाचार और विकास रणनीति अनुसंधान संस्था की उपाध्यक्ष श्वू वेईशिन से विशेष साक्षात्कार किया।

1. चीन के विकास का क्या रहस्य है?

इस सवाल के जवाब में श्वू ने कहा कि पिछले 40 वर्षों में चीन के विकास में प्राप्त हुई उपलब्धियों का एक समग्र कारण है। यानी चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सही नेतृत्व में चीन के पास एक निश्चित और स्पष्ट खाका है। देश के विभिन्न तबकों के लोग इस खाके के मुताबिक हमारे महान लक्ष्य को साकार करने की कोशिश करते हैं। विश्व में किसी दूसरे देश में शायद ऐसा नहीं है कि कई सदियों में एक ही लक्ष्य के लिए संघर्ष किया जा रहा हो।

2. चीन की आबादी विश्व में सबसे ज्यादा है, साथ ही चीन की जीडीपी भी विश्व के दूसरे स्थान पर है। चीन का विकास विश्व के अन्य देशों के लिए मौका है या धमकी?

श्वू ने कहा कि इसके बारे में चिंतित होने की कोई जरूरत नहीं है। आज और भविष्य के चीन के बारे में अच्छी तरह समझने के लिए लोगों को चीन के इतिहास को पढ़ना चाहिए। चीन के इतिहास में चीन ने कभी आक्रमण युद्ध नहीं छेड़ा। प्राचीन काल में चीनी लोगों ने पश्चिमी क्षेत्रों का दौरा किया, जिसका मकसद दुनिया को चीन की अच्छी चीजें देना था और चीन की बुद्धि को विश्व को प्रदान करना था। चीनी लोगों ने कभी दूसरों देशों पर आक्रमण नहीं किया। पहले चीन ने ऐसा किया, आज और भविष्य में चीन भी ऐसा ही करेगा। चीन सरकार का मकसद चीनी लोगों को और सुखमय और खुशहाल जीवन बिताने देना है, साथ ही चीनी राष्ट्र को अधिक समृद्ध बनाना है।

युगांडा कोविड के बीच एचआईवी-एड्स के खिलाफ भी लड़ रहा है लड़ाई

फोटो: IANS
फोटो: IANS

युगांडा कोविड -19 के प्रकोप के बावजूद एचआईवी- एड्स के खिलाफ लड़ाई में देश को मजबूत करने का प्रयास कर रहा है। यह जानकारी एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने दी है। निदेशक युगांडा एड्स आयोग (यूएसी) के जनरल नेल्सन मुसोबा ने विश्व एड्स दिवस के स्मरणोत्सव के दौरान कहा कि कोविड -19 ने राष्ट्रीय एचआईवी और एड्स प्रतिक्रिया को नहीं छोड़ा है। हालांकि, एचआईवी परीक्षण में 41 प्रतिशत की गिरावट और महामारी के कारण निदान उपचार के लिए रेफरल में 37 प्रतिशत की गिरावट आई थी।

मुसोबा ने कहा कि कोविड के प्रभाव के बावजूद, देश एचआईवी-एड्स से लड़ना जारी रखेगा और 2030 तक एड्स को सार्वजनिक स्वास्थ्य खतरे के रूप में समाप्त करने के वैश्विक लक्ष्य को प्राप्त करेगा।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, स्वास्थ्य मंत्रालय और एचआईवी-एड्स पर संयुक्त राष्ट्र कार्यक्रम (यूएनएड्स) के आंकड़े बताते हैं कि युगांडा सही रास्ते पर है, जहां एचआईवी का प्रसार वर्तमान में 5.4 फीसदी से कम है, जो 2016 में 6.2 फीसदी था।


ऑस्ट्रेलियाई विज्ञान एजेंसी ने चंद्र रोवर्स के लिए परीक्षण सुविधा शुरू की

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ऑस्ट्रेलिया की राष्ट्रीय विज्ञान एजेंसी ने चंद्रमा पर भेजे जाने से पहले प्रौद्योगिकी का परीक्षण करने के लिए एक उद्देश्य-निर्मित सुविधा शुरू की है।

कॉमनवेल्थ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (सीएसआईआरओ) ने गुरुवार को ब्रिस्बेन में इन-सीटू रिसोर्स यूटिलाइजेशन (आईएसआरयू) सुविधा तैयार उपलब्ध कराई है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यह सुविधा अंतरिक्ष में भेजे जाने से पहले रोवर्स और संबंधित उपकरणों का परीक्षण करने के लिए चंद्रमा जैसा वातावरण प्रदान करती है।

सीएसआईआरओ अंतरिक्ष प्रोग्राम के निदेशक किम्बरली क्लेफील्ड ने एक मीडिया विज्ञप्ति में कहा, "इस पैमाने पर चंद्र इलाके को अनुकरण करने की हमारी क्षमता ऑस्ट्रेलिया में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के विकास के लिए एक रोमांचक प्रगति है।"

जापान ने इनबाउंड फ्लाइट बुकिंग पर प्रतिबंध का फैसला वापस लिया

फोटो: IANS
फोटो: IANS

जापानी सरकार ने गुरुवार को एयरलाइंस से इस महीने आने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए आरक्षण पूरी तरह से बंद करने के अपने अनुरोध को वापस ले लिया है। स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी दी है।

जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने स्वीकार किया कि परिवहन मंत्रालय की पिछले दिन की घोषणा ने जनता में भ्रम की स्थिति पैदा कर दी थी, जबकि अधिकारियों को घरेलू यात्रा करने के लिए लोगों की इच्छाओं को 'पर्याप्त रूप से ध्यान में रखने' का निर्देश दिया है।

जापानी सरकार के शीर्ष प्रवक्ता, मुख्य कैबिनेट सचिव हिरोकाजु मात्सुनो ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मंत्रालय ने अनुरोध वापस ले लिया है और जापान जाने वाली उड़ानों के लिए ऑल निप्पॉन एयरवेज कंपनी और जापान एयरलाइंस कंपनी को नए रिजर्वेशन्स लेने की अनुमति दी है। सरकार ने बुधवार को विदेशों से आगमन की दैनिक सीमा को भी 5,000 से घटाकर 3,500 कर दिया।


अमेरिकी दूतावास के कुछ कर्मचारियों को दो महीने में रूस छोड़ना होगा

फोटो: IANS
फोटो: IANS

रूसी विदेश मंत्रालय ने रूसी राजनयिकों को निष्कासित करने के वाशिंगटन के फैसले के जवाब में कहा है कि अमेरिकी दूतावास के कुछ कर्मचारियों को दो महीने में रूस छोड़ना होगा। मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने बुधवार को अपनी साप्ताहिक ब्रीफिंग के दौरान कहा, "31 जनवरी, 2022 तक, जो मास्को में अमेरिकी दूतावास में तीन साल से अधिक समय से काम कर रहे हैं, उन्हें रूस छोड़ देना चाहिए।"

यदि वाशिंगटन अपनी नीति में सुधार नहीं करता है, तो अमेरिकी राजनयिकों के एक और बैच को 1 जुलाई, 2022 तक प्रस्थान करना होगा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका ने इससे पहले 55 रूसी राजनयिकों को 30 जनवरी, 2022 और 30 जून, 2022 तक दो बैचों में देश छोड़ने के लिए कहा था, जिसके जवाब में रूस ने यह कदम उठाया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia