पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में इमरान खान की पार्टी की स्थिति जानकर रह जाएंगे हैरान, PTI सांसदों कि सख्या हुई शून्य

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के उपाध्यक्ष कासिम सूरी ने गुरुवार को पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के 123 एमएनए के इस्तीफे स्वीकार कर लिए।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के उपाध्यक्ष कासिम सूरी ने गुरुवार को पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के 123 एमएनए के इस्तीफे स्वीकार कर लिए। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पीटीआई के अध्यक्ष इमरान खान को प्रधानमंत्री के पद से हटाने के बाद इन सांसदों ने नेशनल असेंबली से खुद को अलग करने का फैसला करते हुए सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया था।


जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, खान को तत्कालीन संयुक्त विपक्ष द्वारा उनके खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के माध्यम से बाहर कर दिया गया था। हालांकि खान और उनकी पार्टी पीटीआई ने इस कदम को 'विदेशी साजिश' कहा था।


पद से हटाए जाने के बाद, पूर्व प्रधानमंत्री ने अपने एमएनए को अपने-अपने इस्तीफे देने के लिए कहा था। इसके साथ ही उन्होंने नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री और पीएमएल-एन नेता शहबाज शरीफ के साथ ही समूचे विपक्ष की भी आलोचना की थी और कहा था कि 'इस देश का इससे बड़ा कोई अपमान नहीं हो सकता'।

गुरुवार को ट्विटर पर खान ने इस्तीफा देने के लिए अपने एमएनए की सराहना की। खान ने ट्वीट किया, "हमारे 123 एनएनए की सराहना करना चाहता हूं, क्योंकि उनके इस्तीफे स्पीकर कासिम सूरी द्वारा स्वीकार कर लिए गए हैं।।"

पूर्व पीएम खान ने एक संप्रभु पाकिस्तान के लिए उनके दृढ़ रहने और अमेरिका द्वारा शुरू किए गए शासन परिवर्तन के खिलाफ खड़े रहने के लिए प्रशंसा की। पूर्व प्रधानमंत्री के आह्वान पर प्रतिक्रिया देते हुए, पीटीआई के एमएनए ने नए पीएम के रूप में शहबाज शरीफ के चुनाव से कुछ घंटे पहले डिप्टी स्पीकर को अपना इस्तीफा सौंप दिया था।


जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, 11 अप्रैल को हुई पीटीआई की संसदीय दल की बैठक के दौरान कथित तौर पर यह फैसला किया गया। मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने खान के हवाले से कहा, "हम किसी भी हालत में इस सदन में नहीं बैठेंगे।" उन्होंने कहा कि पीटीआई 'पाकिस्तान को लूटने वाले लोगों' और 'विदेशी ताकतों द्वारा लाए गए' लोगों के साथ सदन में नहीं बैठेगी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 14 Apr 2022, 9:04 PM