धोनी की कप्तानी में चौथी बार चेन्नई सुपर किंग्स बना आईपीएल चैंपियन, फाइनल में केकेआर को 27 रन से हराया

चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2021 के फाइनल में कोलकाता नाइट राइडर्स को 27 रन से हराकर चौथी बार खिताब अपने नाम किया। इससे पहले चेन्नई ने 2010, 2011 और 2018 में भी आईपीएल का खिताब जीता था। सभी खिताब महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी में ही जीते हैं।

@IPL
@IPL
user

आईएएनएस

सलामी बल्लेबाज फॉफ डू प्लेसिस (86) रनों की शानदार पारी के बाद शार्दुल ठाकुर (3/38) की बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने यहां दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2021 के फाइनल मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) को 27 रनों से हराकर चौथी बार इस टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया। इससे पहले सीएसके ने 2010, 2011 और 2018 में भी आईपीएल का खिताब जीत चुकी है। चारो खिताब सीएसके ने महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी में हीं जीती है।

सीएसके ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए डू प्लेसिस के 59 गेंदों पर सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से 20 ओवर में तीन विकेट पर 192 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करते हुए केकेआर की टीम 20 ओवर में नौ विकेट पर 165 रन ही बना सकी।

सीएसके की तरफ से शार्दुल के अलावा रवींद्र जडेजा और जोश हेजलवुड ने दो-दो विकेट लिए जबकि दीपक चाहर और ड्वेन ब्रावो को एक-एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी केकेआर ने शानदार शुरूआत की। सलामी बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर और शुभमन गिल ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए पहले विकेट के लिए 62 गेंदों में 91 रनों की साझेदारी की। अय्यर ने इसी बीच अपना अर्धशतक भी जमाया। दोनों बल्लेबाजों के इस बढ़ते साझेदारी को शार्दुल ने अय्यर को आउट कर तोड़ा। अय्यर ने 32 गेंदों में पांच चौकों और तीन छक्कों की मदद से 50 रन बनाए। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए नितीश राणा बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। इनका विकेट भी शार्दुल ने लिया।

एक छोर से गिल लगातार रन बना रहे पर दूसरे छोड़ से बल्लेबाज रन बनाने में संघर्ष करते रहे। राणा के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए सुनिल नारायण और वह भी दो रन बनाकर आउट हो गए। केकेआर को करारा झटका दीपक चाहर ने गिल को आउट कर दिया। गिल ने 43 गेंदों में छह चौकों की मदद से केकेआर की ओर से सर्वाधिक 51 रन बनाए।


धोनी की कप्तानी में चौथी बार चेन्नई सुपर किंग्स बना आईपीएल चैंपियन, फाइनल में केकेआर को 27 रन से हराया

इसके बाद केकेआर का कोई भी बल्लेबाज टिक नहीं सका और दिनेश कार्तिक (9), शाकिब अल हसन (0), राहुल त्रिपाठी (2), कप्तान मोर्गन (4) और मावी (20) रन बनाकर आउट हुए जबकि लॉकी फग्र्यूसन ने नाबाद 18 और वरुण चक्रवर्ती बिना खाता खोले नाबाद रहे।

इससे पहले, सिएसके के सलामी बल्लेबाजों ने टीम को शानदार शुरूआत दिलाई। डूप्लेसिस और रुतुरारज गायकवाड़ के बीच पहले विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी हुई। इसी बीच गायकवाड़ इस सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए। गायकवाड़ ने आईपीएल 2021 में 635 रन बनाकर ऑरेंज कैप अपने नाम किया।

गायकवाड़ और डू प्लेसिस के बढ़ते साझेदारी को नारायण ने गयाकवाड़ को आउट कर तोड़ा। गायकवाड़ ने 27 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 32 रन बनाए। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए रॉबिन उथ्थपा और डू प्लेसिस ने पारी को आगे बढ़ाया।

डू प्लेसिस एक छोर से लगातार रन बना रहे थे तो दूसरी छोड़ से उथ्थपा ने भी उनका बखूबी साथ निभाया और केकेआर के गेंदबाजों के खिलाफ जमकर रन बनाए। उथ्थपा ने डू प्लेसिस के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 32 गेंदों में 63 रन की साझेदारी की । नारायण ने उथ्थपा को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। उथ्थपा ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 15 गेंदों में तीन छक्को की मदद से 31 रन बनाए।

उथ्थ्पा के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए मोइन अली। इसी बीच डू प्लेसिस ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया। मोइन और डुप्लेसिस के बीच तीसरे विकेट के लिए 39 गेंदों में 68 बनाए । 20वें ओवर के अंतिम गेंद पर मावी ने डू प्लेसिस को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। डुप्लेसिस ने अपने अनुभव को दिखाते हुए 59 गेंदों मे सात चौकों और तीन छक्को की मदद से 86 रन बानाए जबकि मोइन 20 गेंदों में दो चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 37 रना बनाए।

केकेआर की ओर से सुनिल नारायण ने दो विकेट लिए जबिक शिवम मावी को एक विकेट मिला। डू प्लेसिस को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच दिया गया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia