कश्मीरी क्रिकेटर के पिता ने बेटे के भारत के लिए खेलने को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा- आने वाले समय में मेरा बेटा...

उनके पिता अब्दुल राशिद मलिक का मानना है कि आईपीएल 2022 एक बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए उमरान के सीखने की अवस्था का एक हिस्सा है। उम्मीद है कि भविष्य में राष्ट्रीय टीम के लिए उमरान खेलेंगे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में सनराइजर्स हैदराबाद के युवा तेज गेंदबाज उमरान मलिक अपने असाधारण प्रदर्शन से सबका दिल जीत लिया है। उन्होंने अपनी रफ्तार से इस सीजन में सबसे तेज गेंद फेंकी है, जिसे देखते हुए कुछ विशेषज्ञों ने उन्हें भारत के लिए खेलने का दावेदार बताया है।

2021 सीजन के दूसरे भाग में अच्छी गेंदबाजी के बाद आईपीएल के दूसरे सीजन में मलिक ने अपने पहले आठ मैचों में 15 विकेट लिए हैं, जिसमें गुजरात टाइटंस के खिलाफ 5/25 शानदार पंजा भी शामिल है। लेकिन अपने पिछले तीन मैचों में 22 वर्षीय के तेज गेंदबाज को बिना विकेट से ही संतुष्ठ करना पड़ा है।

उनके पिता अब्दुल राशिद मलिक का मानना है कि आईपीएल 2022 एक बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए उमरान के सीखने की अवस्था का एक हिस्सा है। उम्मीद है कि भविष्य में राष्ट्रीय टीम के लिए उमरान खेलेंगे।

राशिद ने आईएएनएस को बताया, "हमारे बच्चे को बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है। हम चाहते हैं कि वह भविष्य में और अधिक मेहनत करे और बहुत कुछ सीखें। आने वाले समय में हमें उम्मीद है कि वह भारत के लिए खेलेगा और अच्छा प्रदर्शन करेगा।"


हालांकि हैदराबाद उस मैच में गुजरात से हार गया था, जहां मलिक ने हार्दिक पांड्या को शॉर्ट गेंद से आउट करने के अलावा रिद्धिमान साहा, शुभमन गिल, डेविड मिलर और अभिनव मनोहर को बोल्ड किया था।

उमरान को जम्मू में तेज गेंदबाजी करते हुए देखकर राशिद ने याद किया कि उनके घर के आसपास का माहौल ऐसा लग रहा था जैसे ईद जल्दी आ गई हो।

उन्होंने आगे कहा, "जिस दिन उमरान ने तेज गेंदबाजी की थी, उस दिन हमारी ईद मनाई गई थी। इससे ज्यादा खुशी की बात और क्या हो सकती है। हमारे पड़ोस में हर कोई खुश था, पूरा भारत खुशी मना रहा था कि हमारा बच्चा अच्छा कर रहा है। हम बस यही उम्मीद करते हैं कि वह भविष्य में देश के लिए खेलें और देश को गौरवान्वित करें।"

राशिद अपने बेटे की गति और मेहनत का श्रेय बचपन से ही खेल के प्रति झुकाव को देते हैं, जिसमें जम्मू की भीषण गर्मी में लंबे समय तक गेंदबाजी करना शामिल है। उन्होंने कहा, "यहां (उनके घर के पास) की मिट्टी ने उन्हें उस मुकाम तक पहुंचाया है जहां वह आज हैं। इस मिट्टी पर खेलने ने उन्हें वह गेंदबाज बना दिया है, जो वह वर्तमान में हैं। बचपन से ही उन्हें क्रिकेट खेलने और तेज गेंदबाजी करने का शौक था। वह काफी दमखम से क्रिकेट खेलते थे।"

राशिद ने खुलासा किया कि जब भी उनके पास खाली समय होता है तो वह और उमरान की मां अपने बेटे के साथ बात करते हैं और अनुभवी भारतीय क्रिकेटरों के साथ-साथ हैदराबाद के तेज गेंदबाजी कोच डेल स्टेन के आईपीएल 2022 के दौरान अपने बेटे के साथ क्रिकेट ज्ञान साझा करने और बातचीत के लिए धन्यवाद देते हैं।


उन्होंने कहा, "हमारी दुआ (प्रार्थना) अभी यह है कि उमरान अच्छा करते रहे और बड़े क्रिकेटरों के साथ आईपीएल में बहुत कुछ सीखें, विराट कोहली और एमएस धोनी ने उनकी बहुत प्रशंसा की है और उन्हें उनसे बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है। धोनी और जसप्रीत बुमराह उसे बहुत सी बातें समझाते हैं। उसे भारत के लिए सभी बड़े खिलाड़ियों का भरपूर समर्थन मिल रहा है।

अपने फल और सब्जी के स्टॉल लगाने वाले राशिद को उनके बेटे द्वारा हासिल की गई कामयाबी को देखते हुए बहुत से लोगों ने उन्हें बधाई दी हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 13 May 2022, 3:36 PM