नरेंद्र मोदी ने देश और प्रधानमंत्री पद की गरिमा घटाई, वो पीएम पद के लायक नहीं: कांग्रेस

अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि उन्हें बोफोर्स सौदा मामले में उच्च न्यायालय द्वारा 2005 में और बाद में 2018 में सर्वोच्च न्यायालय ने क्लीन चिट दे दिया। उन्होंने कहा, “किसी दिवंगत व्यक्ति के ऊपर हमला करना कितना उचित है, जो अपना खुद बचाव नहीं कर सकता। प्रधानमंत्री डर और हताशा में है।”

फोटो: आईएएनएस
फोटो: आईएएनएस

आईएएनएस

कांग्रेस ने सशस्त्र बलों का 'उपहास करने' और चुनावी फायदे के लिए उनका 'इस्तेमाल करने' और 'ओछी' राजनीतिक टिप्पणी कर देश और अपने पद की गरिमा घटाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंगलवार को आलोचना की।

एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, "मोदी ने रक्षा बलों का दुरुपयोग किया जैसा पहले कभी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि (यूपीए के समय) सर्जिकल स्ट्राइक कुछ ऐसा था जैसे सुरक्षाकर्मी वीडियो गेम खेल रहे थे या वह सिर्फ कागज पर था। वह सुरक्षा बलों का उपहास कर रहे हैं।" उनके अनुसार, कई पूर्व रक्षा सैनिकों ने मोदी की टिप्पणियों पर आपत्ति की है।

उन्होंने कहा, "मोदीजी ने चुनाव प्रचार के दौरान रक्षा कर्मियों के पोस्टरों का इस्तेमाल किया है। यह सस्ती राजनीति है।" कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) जब भी रोजगार, कालेधन व अर्थव्यवस्था व अन्य मुद्दों को लेकर मुश्किल में फंसे तो लक्ष्य बदल दिया।

सिंघवी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को 'भ्रष्ट' कहने को लेकर मोदी की निंदा की। सिंघवी ने कहा कि उन्हें बोफोर्स सौदा मामले में उच्च न्यायालय द्वारा 2005 में और बाद में 2018 में सर्वोच्च न्यायालय ने क्लीन चिट दे दिया। उन्होंने कहा, "किसी दिवंगत व्यक्ति के ऊपर हमला करना कितना उचित है, जो अपना खुद बचाव नहीं कर सकता। प्रधानमंत्री डर और हताशा में है।"

उन्होंने कहा, "मोदीजी न सिर्फ प्रधानमंत्री पद की गरिमा कम कर रहे हैं, बल्कि देश की छवि व गरिमा को भी गिरा रहे हैं।" सिंघवी ने कहा कि मोदी ने 'जुमलेबाजी', 'फेंकूबाजी' का सहारा लिया, क्योंकि उन्होंने बेरोजगारी व अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने और किसानों के संकट के मुद्दों पर जवाब नहीं दिया।

उन्होंने कहा, "आम तौर पर एक व्यक्ति जो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के संवैधानिक पद को धारण करता है, उसे एक राजनेता बनने के लिए जाना जाता है। हालांकि, मोदीजी के मामले में यह उलटा है। उनके जाने का समय आ गया है।"

लोकप्रिय