सुरक्षा की बात करने वाले पीएम मोदी बताएं पुलवामा आतंकी हमला और गढ़चिरौली नक्सली हमला किसकी सरकार में हुआ?

“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आंतरिक सुरक्षा की बात करते हैं, मगर पुलवामा में आतंकी हमला हुआ, केंद्र में किसी सरकार है? महाराष्ट्र में नक्सली हमला हुआ वहां किसी सरकार है?”

फोटो: @INC
फोटो: @INC
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी सरकार पर देश की आतंरिक सुरक्षा को लेकर जमकर हमला बोला। राहुल गांधी ने पहले पुलवामा में हुए आतंकी हमले और बुधवार को महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में महाराष्ट्र पुलिस के सी-60 कमांडो पर हुए नक्सली हमले को लेकर बीजेपी पर सवाल उठाते हुए कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आंतरिक सुरक्षा की बात करते हैं, मगर पुलवामा में आतंकी हमला हुआ, केंद्र में किसी सरकार है? महाराष्ट्र में नक्सली हमला हुआ वहां किसी सरकार है। दोनों जगह बीजेपी की सरकारें हैं। प्रधानमंत्री इस बारे में कुछ क्यों नहीं कहते।"

राहुल गांधी ने कहा कि ‘चौकीदार चोर है’ का नारा कांग्रेस का नहीं, बल्कि देश की जनता का नारा है। होशंगाबाद-नरसिंहपुर संसदीय क्षेत्र के पिपरिया में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपये डालने, दो करोड़ युवाओं को हर साल नौकरी देने का वादा किया था, मगर वादा पूरा नहीं हुआ। इसी के चलते छत्तीसगढ़ के लोगों ने चौकीदार कहने पर चोर जोड़ते हुए नारा दिया था।" कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा, "यह नारा कांग्रेस या हमारा नहीं है, बल्कि देश के गरीब, किसान, युवा, मजदूर और महिलाओं के दिल से निकली आवाज है। देश की जनता का यह नारा है और प्यारा है।"

नोटबंदी और जीएसटी को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा, "केंद्र की मोदी सरकार ने नोटबंदी और गब्बर सिह टैक्स (जीएसटी) के जरिए देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया, बेरोजगारी बढ़ा दी, मगर कांग्रेस ने तय किया है कि सत्ता में आते ही न्याय योजना के जरिए गरीबों के खाते में 6000 रुपये माह और 72 हजार रुपये साल जमा किए जाएंगे। यह राशि तब तक मिलेगी, जब तक परिवार की आमदनी 12 हजार रुपये माह नहीं हो जाती। गरीबों के खाते में इस राशि के आते ही जहां बाजार में दुकानों में खरीदी होने लगेगी, फैक्टरी में उत्पादन होगा और युवाओं को रोजगार मिलेगा तो देश की अर्थव्यवस्था सुधर जाएगी।"

उन्होंने कहा, "कांग्रेस न्याय योजना के लिए पैसा मध्यम वर्ग से नहीं लेगी, बल्कि विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी सहित अन्य उद्योगपतियों की जेब से पैसा निकालकर न्याय योजना के तहत लोगों की जेबों में डाला जाएगा। नरेंद्र मोदी ने 15 लाख रुपये देने का झूठ लोगों से बोला। 15 लाख रुपये खाते में नहीं डाले जा सकते, मगर तीन लाख 60 हजार रुपये पांच साल में बैंक खातों में डाले जा सकते हैं।"

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "कांग्रेस ने तय किया है कि जब उद्योगपति हजारों करोड़ रुपये लेकर बाहर रहते हैं, और उन्हें जेल नहीं भेजा जाता तो किसानों को भी जेल नहीं भेजा जाएगा। कांग्रेस ने अपने घोशणा-पत्र में यह वादा किया है। इतना ही नहीं कांग्रेस की सरकार आमबजट से पहले किसानों के लिए बजट लाएगी। इस बजट में किसानों की सुविधा, दाम और अन्य बातों का जिक्र होगा।"

बता दें कि होशंगाबाद में पांचवें चरण में छह मई को मतदान होगा, और मतों की गिनती 23 मई को होगी

लोकप्रिय
next