पीएम मोदी पर ममता के विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप, तृणमूल करेगी चुनाव आयोग से शिकायत

टीएमसी के वरिष्ठ नेता डेरेक ओ ब्रायन ने पीएम मोदी के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी है जिसमें पीएम मोदी ने कहा था कि टीएमसी के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दावे से हंगामा मच गया है। कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री जैसे प्रतिष्ठित पद पर बैठे व्यक्ति द्वारा ऐसी बातें कहना लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है। दरअसल पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल में एक रैली को संबोधित करते हुए दावा किया है कि तृणमूल कांग्रेस के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि 23 मई के बाद सारे विधायक पार्टी छोड़ देंगे। टीएमसी ने उन पर विधायकों की खरीद फरोख्त करने के भी आरोप लगाए हैं। उनके इस बयान को टीएमसी ने विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिश बताया है। तृणमूल कांग्रेस ने उनके खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत करने की बात भी कही है।

तृणमूल कांग्रेस के 40 विधायकों के बीजेपी के संपर्क में होने के पीएम मोदी के दावे को टीएमसी के नेता डेरेक ओ ब्रॉयन पीएम मोदी पर करारा हमला बोला है। मोदी के दावे को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि एक्सपायरी बाबू पीएम इतना समझ लें कि उनके साथ टीएमसी का एक पार्षद तक नहीं जाएगा। उन्होंने इस बाबत एक ट्वीट भी किया। ट्वीट में टीएमसी नेता ने लिखा कि, 'एक्सपायरी बाबू पीएम, कोई आपके साथ नहीं जाएगा, एक पार्षद भी नहीं। आप चुनाव प्रचार कर रहे हैं या खरीदफरोख्त कर रहे हैं। आपका एक्सपायरी डेट नजदीक है। हम चुनाव आयोग से इसकी शिकायत कर रहे हैं।' टीएमसी सांसद ने कहा कि वे पीएम मोदी के खिलाफ खरीद फरोख्त की कोशिश की शिकायत दर्ज करेंगे।

इससे पहले आज ममता सरकार पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दीदी आपकी जमीन खिसक चुकी है और देख लेना 23 मई को जब नतीजे आएंगे तो आपके विधायक भी आपको छोड़कर भाग जाएंगे। पीएम मोदी ने दावा किया कि टीएमसी के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि दीदी आपने विश्वासघात किया है, आज जो पश्चिम बंगाल में गुस्सा है वो आपके विश्वासघात का है और इस विश्वासघात की कीमत यहां का नौजवान लेकर रहेगा।

Published: 29 Apr 2019, 6:30 PM
लोकप्रिय