चुनावी है बीजेपी का राष्ट्रवाद, इस बार जनता नहीं होगी भ्रमितः प्रवीण तोगड़िया

पूर्व विश्व हिंदू परिषद नेता डॉ प्रवीण तोगड़िया ने कहा है कि बीजेपी के लिए राम मंदिर, चायवाला और चैकीदार सभी चुनावी मुद्दा हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि आगामी लोकसभा चुनाव में देश की जनता बीजेपी के चुनावी राष्ट्रवाद से भ्रमित नहीं होगी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

आईएएनएस

विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष और हिन्दुस्तान निर्माण दल के अध्यक्ष डॉ प्रवीण तोगड़िया ने बीजेपी और पीएम मोदी पर चुनावी फायदे के लिए राम मंदिर और राष्ट्रवाद के मुद्दे का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को अयोध्या जाकर अपने हिंदू होने का सर्टिफिकेट देना चाहिए।

उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर बीते पांच सालों में किन वजहों से मोदी वहां नहीं गए। उन्होंने कहा, “क्या नरेंद्र मोदी को राम से डर लगता है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी कम से कम अयोध्या जाने की जहमत तो उठा रहीं हैं।” साथ ही उन्होंने कहा, "मोदी सरकार ने राम मंदिर मामले में देश के हिंदुओं का विश्वास तोड़ा है। इस सरकार ने किसानों और युवाओं के साथ भी छलावा किया है।"

कभी पीएम नरेंद्र मोदी के खास रहे प्रवीण तोगड़िया ने तंज कसते हुए कहा कि आडवाणी, जोशी जो कल तक मार्गदर्शक थे, उन्हें मूकदर्शक बना दिया गया है। उन्होंने कहा, “बीजेपी के लिए राम मंदिर भी चुनावी मुद्दा, चायवाला भी चुनावी मुद्दा और चैकीदार भी चुनावी मुद्दा है। मोदी के कार्यकाल में एक हजार सैनिक मारे गए हैं। इस पर कोई बात नहीं की जाती है। इनका राष्ट्रवाद चुनावी है। भारत का हर नागरिक देशभक्त है। मुझे पूरा विश्वास है कि देश की जनता इनके चुनावी राष्ट्रवाद से भ्रमित नहीं होगी।"

वाराणसी से चुनाव लड़ने के बारे में उन्होंने कहा, "समर्थकों ने मुझे अयोध्या, मथुरा, काशी से चुनाव लड़ने को कहा था। अयोध्या में प्रत्याशी घोषित कर चुका हूं। मथुरा की तिथि निकल गई है। काशी से चुनाव लड़ने पर विचार किया जा सकता है।" उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी इस बार कुल 100 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रही है। उसमें से मंगलवार को 39 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई है। उन्होंने उत्तर प्रदेश की 26 सीटों से उम्मीदवार उतारने की घोषणा की है।

लोकप्रिय