बीजेपी में एक और जूताकांड, कानपुर के डॉक्टर ने पार्टी सांसद जी वी एल नरसिम्हा के मुंह पर दे मारा जूता

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के बीच प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव पर एक शख्स ने जूता फेंका है। जूता फेंकने वाले शख्स को पकड़ लिया गया है। इस घटना से चर्चा होने लगी है कि लगता है बीजेपी का जूतों से काई कोई गहरा नाता है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

लगता है बीजेपी और जूतों का कोई गहरा नाता हो गया है। आए दिन बीजेपी नेताओं का जूता प्रकरण देखने को मिलता रहता है। कभी कोई बीजेपी नेता जूता चलाता है, तो कभी कोई और बीजेपी नेताओं पर जूते की बौछार कर देता है। बीजेपी और जूते के इस गहरे नाते में गुरुवार को एक नया अध्याय उस समय जुड़ गया, जब राजधानी दिल्ली स्थित ‘फाइव स्टार’ बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान बीजेपी प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव पर एक शख्स ने जूता चला दिया।

दरअसल गुरुवार को दूसरे चरण के मतदान के बीच बीजेपी सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव पार्टी मुख्याल में भोपाल सीट से साध्वी प्रज्ञा को प्रत्याशी बनाए जाने पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। राव ने बोलना शुरू ही किया था कि तभी हॉल में मौजूद एक शख्स ने उन पर जूता फेंक दिया। कमरे में मौजूद लोगों ने फौरन उस शख्स को पकड़ लिया और बाहर लेकर चले गए। इस दौरान शख्स के साथ मारपीट भी की गई।

बताया जा रहा है कि जूता फेंकने वाला शख्स कानपुर का है और उसके पास से मिले विजिटिंग कार्ड पर उसका नाम डॉक्टर शक्ति भार्गव दर्ज है। बाद में इस शख्स को आईपी एस्टेट पुलिस स्टेशन के अधिकारियों के हवाले कर दिया गया, जहां उससे आगे की पूछताछ की जा रही है।

इससे पहले मार्च में यूपी के संतकबीरनगर में एक बैठक के दौरान बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी का सबके सामने पार्टी विधायक को जूते से पीटने की घटना सामने आई थी। डीएम और योगी सरकार के मंत्री की मौजूदगी में बैठक के दौरान दोनों नेताओं के बीच बहस शुरू हुई और नौबत मारपीट तक पहुंच गई। बाद में मामले को रफादफा कर दिया गया था।

इसके बाद मार्च में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक लोकल न्यूज चैनल के डिबेट शो में बीजेपी के जिला अध्यक्ष विजेंद्र कश्यप ने अपना आपा खो दिया। बहस के दौरान एक किसान नेता की बात पर वह ऐसे उखड़े कि उन्होंने जूता निकाल लिया और उसे पीटने के लिए दौड़ पड़े। हालांकि ताव में आए बीजेपी नेता को उनके कार्यकर्ताओं ने किसी तरह कैमरे का हवाला देकर रोक लिया।

Published: 18 Apr 2019, 2:43 PM
लोकप्रिय