CDS बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर क्रैश में 13 लोगों की मौत, DNA जांच से होगी पहचान, कल बयान देंगे रक्षा मंत्री

जानकारी के मुताबिक, हेलीकॉप्टर क्रैश के बाद उसमें आग लग गई, जिसमें उसमें सवार कई अधिकारी बुरी तरह झुलस गए हैं। हालांकि, अभी तक सीडीएस बिपिन रावत की हालत के बारे में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं है। खबरों के अनुसार उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

तमिलनाडु के कुन्नूर के पास बुधवार दिन में सेना का एक वीवीआईपी हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया, जिसमें सवार 14 लोगों में से 13 की मौत की खबर है। एएनआई ने सूत्रों के अनुसार बताया है कि मृतकों की पहचान डीएनए जांच से होगी। इस हेलीकॉप्टर में देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत 14 लोग सवार थे। फिलहाल जनरल बिपिन रावत की स्थिति की सही जानकारी नहीं मिल पाई है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कल संसद में इस घटना के बारे में जानकारी देंगे।

इससे पहले हादसे के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घटना की पूरी जानकारी दी। इसके बाद राजनाथ सिंह ने सीडीएस बिपिन रावत के घर जाकर उनकी बेटी से मुलाकात की। वहां से राजनाथ सिंह संसद भवन के लिए रवाना हो गए। रक्षा मंत्री ने इस घटना पर सेनाध्यक्ष एमएम नरवणे से चर्चा की है और वायु सेना प्रमुख को घटनास्थल पर पहुंचने के लिए कहा है।


तमिलनाडु में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश में 13 लोगों के मारे जाने की खबर है। हालांकि, अभी तक किसी की पहचान नहीं हो पाई है। जानकारी के मुताबिक, हेलीकॉप्टर क्रैश के बाद उसमें आग लग गई, जिसमें उसमें सवार कई अधिकारी बुरी तरह झुलस गए हैं। हालांकि, अभी तक सीडीएस बिपिन रावत की हालत के बारे में कोई जानकारी नहीं। सूत्रों का कहना है कि उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया है।

हादसे का शिकार हुए सेना के इस हेलीकॉप्टर में सेना के कई अधिकारी मौजूद थे। इसमें सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत के अलावा सेना के ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह मौजूद थे। इनके अलावा उसमें नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, लांस नायक विवेक कुमार, लांस नायक बी.साई तेजा और हवलदार सतपाल भी मौजूद थे।


ये सभी भारतीय सेना के Mi-17V5 हेलीकॉप्टर पर सवार थे, जो सेना के सबसे सुरक्षित हेलीकॉप्टरों में से एक है। किसी भी वीवीआईपी दौरे में इसी हेलीकॉप्टर का उपयोग किया जाता है। यह एक डबल इंजन वाला हेलीकॉप्टर है, जिससे एक इंजन में खराबी आने पर दूसरे इंजन के सहारे सुरक्षित लैंडिंग कराई जा सकती है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia