मणिपुर के सीमावर्ती जिले में 13 अज्ञात शव बरामद, हिंसाग्रस्त राज्य में फिर से तनाव फैलने की आशंका

सूत्रों ने कहा कि कुकी समुदाय के प्रभुत्व वाले क्षेत्र में प्रतिद्वंद्वी समूहों के बीच भारी गोलीबारी के बाद सुरक्षा बल जंगल में बसे गांव पहुंचे, जहां 13 अज्ञात लोगों के शव बरामद किए गए। एक अन्य सूत्र के अनुसार, सभी शव एक उग्रवादी संगठन के लोगों के हैं।

मणिपुर के सीमावर्ती जिले में 13 अज्ञात शव बरामद, फिर से तनाव फैलने की आशंका
मणिपुर के सीमावर्ती जिले में 13 अज्ञात शव बरामद, फिर से तनाव फैलने की आशंका
user

नवजीवन डेस्क

मणिपुर में सोमवार को म्यांमार की सीमा से सटे तेंग्नौपाल जिले के लिथिथु गांव से सुरक्षा बलों ने 13 अज्ञात व्यक्तियों के शव बरामद किए हैं। शवों की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। पिछले 6 महीने से हिंसा की आग में जल रहे मणिपुर के कुकी आदिवासी बहुल गांव में इतने बड़े पैमाने पर शव मिलने पर एक बार फिर तनाव फैलने की आशंका बढ़ गई है।

सूत्रों ने कहा कि कुकी आदिवासी समुदाय के प्रभुत्व वाले क्षेत्र में प्रतिद्वंद्वी समूहों के बीच भारी गोलीबारी के बाद सुरक्षा बल जंगल में बसे गांव में पहुंचे थे, जहां 13 अज्ञात लोगों के शव बरामद किए गए। एक अन्य सूत्र ने दावा किया कि सभी शव एक उग्रवादी संगठन के कैडरों के हैं।


मिली जानकारी के अनुसार, आदिवासी समुदाय के प्रभुत्व वाले क्षेत्र में प्रतिद्वंद्वी समूहों के बीच भारी गोलीबारी तब हुई जब कथित तौर पर उग्रवादी म्यांमार जा रहे थे। मौके से कोई हथियार और गोला-बारूद बरामद नहीं हुआ है। पुलिस और केंद्रीय बलों के वरिष्ठ अधिकारी घटना और शवों की बरामदगी की जांच कर रहे हैं।

मणिपुर की म्यांमार के साथ बिना बाड़ वाली 400 किमी लंबी सीमा है। हालांकि पुलिस, रक्षा और अन्य सुरक्षा अधिकारियों ने न तो घटना से इनकार किया है और न ही इसकी पुष्टि की है। राज्य में स्थित विभिन्न मीडिया आउटलेट्स ने तेंग्नौपाल के गांव में 13 शवों की बरामदगी की सूचना दी है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;