यूक्रेन से अब तक छत्तीसगढ़ के 197 छात्र-छात्राओं की वापसी, बघेल सरकार ने उठाया ठहरने से लेकर घर तक पहुंचाने का जिम्मा

मुख्यमंत्री के निर्देश पर इन छात्र-छात्राओं को वाहन, ठहरने, भोजन की सुविधा उपलब्ध करायी गयी, इसके साथ ही इन छात्र-छात्राओं को अपने गृह नगर जाने के लिए एयर टिकट कराकर उनके परिजनों को सकुशल सौंपा जा चुका है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

रुस के हमलों के चलते यूक्रेन में बने विषम हालातों के बीच भारत के नागरिकों और छात्र-छात्राओं की वापसी का दौर जारी है। छत्तीसगढ़ से यूक्रेन पढ़ने गए छात्रों में से अब तक 197 छात्र-छात्राओं की वापसी हो चुकी है। राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा यूक्रेन संकट के दौरान छत्तीसगढ़ के नागरिकों की सहायता हेतु नई दिल्ली में सहायता केन्द्र बनाया गया है। इस केन्द्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार 27 फरवरी से सात मार्च सोमवार की शाम तक राज्य के 197 छात्र-छात्राओं की सकुशल वापसी हो चुकी है।

बताया गया है कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर इन छात्र-छात्राओं को वाहन, ठहरने, भोजन की सुविधा उपलब्ध करायी गयी, इसके साथ ही इन छात्र-छात्राओं को अपने गृह नगर जाने के लिए एयर टिकट कराकर उनके परिजनों को सकुशल सौंपा जा चुका है।

राज्य सरकार द्वारा नई दिल्ली स्थित छत्तीसगढ़ भवन के सहायता केंद्र बनाया गया है। संयुक्त आवासीय आयुक्त संजय अवस्थी के अनुसार नई दिल्ली में बनाये गए इस सहायता केन्द्र से यूक्रेन में फंसे छत्तीसगढ़ के 17 छात्र-छात्राएं और उनके सात परिजन दूरभाष के माध्यम से लगातार सम्पर्क में हैं।

बताया गया है कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा यूक्रेन में फंसे छात्र-छात्राओं के अलावा उनके परिजनों केा हर संभव मदद की कोशिश की जा रही है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;