मणिपुर में ताजा हिंसा में 2 लोगों की मौत, 5 लोग घायल, दो पक्षों में ताबड़तोड़ हुई फायरिंग

गांव के स्वयंसेवकों की हत्या से पहले दो प्रतिद्वंद्वी जातीय समूहों के सशस्त्र सदस्यों के बीच बंदूक से भीषण लड़ाई हुई। जब गांव के बाकी स्वयंसेवकों ने हमले का जवाब दिया, तो प्रतिद्वंद्वी कैडर पीछे हट गए।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

हिंसा की ताजा घटनाओं में, मंगलवार को मणिपुर के कांगपोकपी और इंफाल पश्चिम जिले के सीमावर्ती इलाकों में उनके अस्थायी शिविर पर हमले के बाद दो ग्रामीण स्वयंसेवकों की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस के अनुसार, एक प्रतिद्वंद्वी समूह के सशस्त्र कैडरों ने कडांगबंद गांव के पास गांव के स्वयंसेवकों के शिविर पर हमला किया, जिसमें गांव के स्वयंसेवक एन. माइकल (33) और एम. खाबा (23) की मौत हो गई। घायल व्यक्तियों को इलाज के लिए इंफाल के क्षेत्रीय आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में भर्ती कराया गया।

गांव के स्वयंसेवकों की हत्या से पहले दो प्रतिद्वंद्वी जातीय समूहों के सशस्त्र सदस्यों के बीच बंदूक से भीषण लड़ाई हुई। जब गांव के बाकी स्वयंसेवकों ने हमले का जवाब दिया, तो प्रतिद्वंद्वी कैडर पीछे हट गए।

सूत्रों ने कहा कि एक घंटे बाद दोनों पक्ष कथित तौर पर फिर से एकजुट हो गए, मगर मंगलवार की रात फिर से भीषण मुठभेड़ शुरू हो गई।

सूत्रों ने बताया कि घटना के बाद कडांगबंद और पड़ोसी कौट्रुक गांवों से महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों सहित बड़ी संख्या में लोग सुरक्षित क्षेत्रों में भाग गए। हालात पर काबू पाने के लिए सुरक्षा बल इलाके में पहुंच गए हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;