अमरनाथ यात्रा पर मंडराया आतंकी साया, घाटी में 200 आतंकी सक्रिय, महबूबा सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

जम्मू-कश्मीर सरकार ने अमरनाथ यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए कम से कम 22 हजार अतिरिक्त अर्द्ध सैनिक बलों की मांग की है। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक, घाटी में 200 आतंकी सक्रिय हैं और यात्रा को निशाना बनाने की साजिश रच रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

अमरनाथ यात्रा पर एक बार फिर आतंकी खतरा मंडरा रहा है। सुरक्षा एजेंसियों की खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि अमरनाथ यात्रा पर आने वाले यात्रियों को निशाना बनाने के लिए करीब 200 आतंकियों को खासतौर से तैयार किया गया है। जिसके चलते जम्मू-कश्मीर सरकार ने अमरनाथ यात्रा के लिए 22 हजार अतिरिक्त जवानों की मांग की है। पिछले साल यात्रियों की सुरक्षा को 35 हजार जवान तैनात किए गए थे। इस साल अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू हो रही है।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, पूरे यात्रा मार्ग में सुरक्षा के लिए तीर्थ यात्रियों के संचालन की उपग्रहों के जरिए निगरानी, जैमर लगाने, सीसीटीवी कैमरे और बुलेटप्रूफ बंकर, खोजी कुत्तों की तैनाती जैसे उपाए किए जाएंगे।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर की दो दिवसीय दौरे के दौरान सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया था। उन्हें बताया गया था कि आतंकी, हमला करने के लिए वक्त का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने अमरनाथ यात्रा के सुरक्षा इंतजामों का जायजा भी लिया था।

हर साल यहां पर लाखों की संख्या में तीर्थयात्री दर्शन करने आते हैं। पिछले साल अमरनाथ मंदिर में कुल 2.60 लाख तीर्थयात्री दर्शन करने आए थे।

पिछले साल कश्मीर में आतंकवादियों ने अमरनाथ यात्रियों पर हमला किया था। हमले में सात लोगों की मौत हो गई थी और 19 लोग जख्मी हुए थे। आतंकियों ने यात्रियों पर ही हमला नहीं किया था बल्कि पुलिस पार्टी को भी निशाना बनाया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;