दिल्ली से एक ही ट्रेन से बिहार लौटे 30 यात्री कोरोना पॉजिटिव, त्योहारी सीजन में महामारी फैलने का बढ़ा खतरा

मधुबनी जिले के सिविल सर्जन सुनील कुमार झा ने बताया कि सोमवार को स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस से 152 यात्री आए थे। उन सभी का कोविड-19 परीक्षण हुआ और उनमें से 30 रैपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए। अधिकारियों को अलर्ट मोड पर रहने का निर्देश दिया गया है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार के मधुबनी जिले में दिल्ली से एक ही ट्रेन से लौटे 30 यात्रियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है। त्योहारी सीजन में इतने बड़े पैमाने पर नए मामले सामने आने के बाद अधिकारियों को बिहार में फिर से कोविड-19 के मामले बढ़ने का डर सताने लगा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला प्रशासन ने सोमवार को आननफानन में मधुबनी रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर कोविड जांच अभियान चलाया।

एक अधिकारी ने बताया कि स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस ट्रेन में दिल्ली से आने वाले तीस यात्री कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए गए। मधुबनी जिले के सिविल सर्जन सुनील कुमार झा ने कहा, "सोमवार को स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस में 152 यात्री आए थे। उन सभी का कोविड-19 परीक्षण हुआ और उनमें से 30 रैपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए।"


सिविल सर्जन सुनील कुमार झा ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर कोविड परीक्षण अभियान शुरू किया गया, जिन्होंने अक्टूबर और नवंबर में आने वाले त्योहार सत्रों से पहले रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और हवाई अड्डे पर परीक्षण शुरू करने का विचार व्यक्त किया था। दशहरा, दिवाली और छठ पूजा मनाने के लिए बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिक बिहार लौटते हैं।

सिविल सर्जन ने कहा कि "हम रेलवे स्टेशनों और बस स्टैंडों पर नियमित रूप से कोविड-19 परीक्षण कर रहे हैं। अधिकारियों को अलर्ट मोड पर रहने का निर्देश दिया गया है क्योंकि आने वाले दिनों में मामले बढ़ सकते हैं। 18 सितंबर को, 8 लोग पॉजिटिव पाए गए थे और 19 सितंबर को 35 यात्री पॉजिटिव मिलें, जिससे जिले में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 73 पहुंच गई है।"


बता दें कि सुपरफास्ट स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस नई दिल्ली और मधुबनी जिले के जय नगर के बीच चलती है। यह ट्रेन बिहार के छपरा, सोनपुर, हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, दरभंगा और सकरी रेलवे स्टेशनों पर भी रुकती है। ऐसे में सोमवार को बड़ी संख्या में दिल्ली से लौटे कई यात्री इन स्टेशनों पर उतरे। लेकिन हर जग जांच नहीं होने से कहीं से कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा नहीं आय़ा है, जो एक बड़ी लापरवाही साबित हो सकती है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia