दिल्ली से त्रिवेंद्रम जा रही केरला एक्सप्रेस में भीषण गर्मी ने ली 4 की जान, झांसी में उतारे गए शव

68 यात्रियों का एक दल वाराणसी और आगरा भ्रमण करने के बाद कोयंबटूर लौट रहा था। इस दौरान आगरा से ग्वालियर के बीच भीषण गर्मी से पांच की तबियत बिगड़ने लगी। जिसके बाद 4 की मौत हो गई।

 फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से त्रिवेंद्रम जा रही केरला एक्सप्रेस में 4 वरिष्ठ यात्रियों की भीषण गर्मी के कारण दम घुटने से मौत हो गयी। चारों मृतक आगरा से कोयंबटूर जा रहे थे। चारो शवों को झांसी स्टेशन पर उतारा गाया।

जानकारी के मुताबिक आगरा से कोयंबटूर जाने के लिए 68 लोगों का एक समूह आगरा से केरला एक्सप्रेस में चढ़ा। इस दौरान आगरा से ग्वालियर के बीच भीषण गर्मी से पांच की तबियत बिगड़ने लगी। जिसके बाद 4 की मौत हो गई। जबकि एक यात्री को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया।

झांसी रेलवे मंडल के जनसंपर्क अधिकारी मनोज कुमार सिंह ने मंगलवार को बताया कि, सोमवार की रात को सात बजे गाड़ी क्रमांक 12626 केरला एक्सप्रेस स्टेशन पर पहुंची। इस रेल के डिब्बा संख्या एस-8 की बर्थ 59 के यात्री की तबियत खराब होने की सूचना मिली। जब चिकित्सकों का दल पहुंचा तो पता चला कि, एस-8 के अलावा एस-9 में कई यात्री बीमार और अचेत हैं।

रेलवे के अनुसार, दोनों ही डिब्बों में चार यात्री अचेत अवस्था में मिले उनमें से तीन यात्रियों की मौत हो चुकी थी और एक की हालत गंभीर थी। हालांकि उसकी भी अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई।

मिली जानकारी के अनुसार, 68 यात्रियों का एक दल वाराणसी और आगरा का भ्रमण करने के बाद कोयंबटूर लौट रहा था, ये लोग उसी दल में शामिल थे।

लू और गर्मी के कारण गाड़ी के आगरा से निकलने के बाद इन यात्रियों को असहजता महसूस हुई और तबियत बिगड़ने लगी, ग्वालियर में ज्यादा परेशानी होने लगी और झांसी पहुंचने तक वे अचेत हो गए।

रेलवे के अनुसार, एस-8 डिब्बे में यात्रा कर रहे पचाया (80) व बालकृष्ण (67), एस-9 में यात्रा कर रही धन लक्ष्मी (74) और एक अन्य की मौत हो गई। तीन ने यात्रा के दौरान ही दम तोड़ दिया था, जबकि एक की मौत उपचार के दौरान अस्पताल में हुई।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय