दिल्ली की जेलों में कोरोना विस्फोट! 66 कैदी, 48 कर्मचारी निकले कोरोना पॉजिटिव, दहशत का माहौल

दिल्ली की जेलों में तीन जेल परिसर हैं - एक तिहाड़ में, जो दुनिया के सबसे बड़े जेल परिसरों में से एक है, जिसमें नौ केंद्रीय जेल हैं, दूसरा रोहिणी जेल परिसर में केंद्रीय जेल है, और तीसरा मंडोली जेल परिसर है जिसमें छह केंद्रीय जेल हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली की जेलों में बंद 66 कैदी और 48 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। एक शीर्ष अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। महानिदेशक (जेल) संदीप गोयल ने आईएएनएस को बताया कि 66 कैदियों के साथ, 48 स्टाफ सदस्य भी कोरोना पॉजिटिव वाए गए हैं।

दिल्ली की जेलों में तीन जेल परिसर हैं - एक तिहाड़ में, जो दुनिया के सबसे बड़े जेल परिसरों में से एक है, जिसमें नौ केंद्रीय जेल हैं, दूसरा रोहिणी जेल परिसर में केंद्रीय जेल है, और तीसरा मंडोली जेल परिसर है जिसमें छह केंद्रीय जेल हैं। वर्तमान में दिल्ली की जेलों में 18,528 कैदी बंद हैं, जिनमें तिहाड़ में 12,669 कैदी, मंडोली में 4,018 और रोहिणी में 1,841 कैदी हैं।

गोयल ने बताया कि पॉजिटिव पाए जाने वाले 66 कैदियों में से 42 तिहाड़ जेल में बंद हैं जबकि 24 मंडोली जेल में हैं। रोहिणी जेल ने अभी तक कैदियों के बीच किसी भी कोविड मामले की रिपोर्ट नहीं की है। स्टाफ के 48 संक्रमित सदस्यों में से 34 तिहाड़ जेल में, छह रोहिणी में और आठ मंडोली में तैनात थे।

दिल्ली की जेलों में करीब पांच महीने के अंतराल के बाद अब कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आने लगे हैं। 4 जनवरी को छोड़कर, आखिरी पॉजिटिव मामला का जुलाई, 2021 में पता चला था। इस बीच, जेलों में संक्रमण में वृद्धि के बीच, तीन जेल परिसरों में औषधालयों को कोविड देखभाल केंद्र के रूप में नामित किया गया है।

शहर में सोमवार को 19,166 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे संक्रमण दर बढ़कर 25 प्रतिशत हो गई, जो 5 मई के बाद सबसे अधिक है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia