85 फीसदी वादे पूरे, चुनाव में जाने से पहले बाकी भी करेंगे पूरे, अमरिंदर सिंह ने पंजाब की जनता को दिया भरोसा

किसानों की कर्जमाफी और बेरोजगार युवाओं को 2,500 रुपये महीना देने के वादे पर अमरिंदर सिंह ने कहा कि राज्य में राजकोषीय बाधाओं, खासकर कोरोना के कारण, कुछ वादों को अब तक लागू नहीं किया जा सका। लेकिन राजस्व बढ़ने के साथ ही ये भी जल्द से जल्द पूरे होंगे।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राज्य में कांग्रेस सरकार के चार साल पूरे होने पर गुरुवार को मीडिया के सामने अपनी सरकार की उपलब्धियां रखीं। उन्होंने अगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव में जाने से पहले 2017 के चुनाव में किये गए सभी वादों को पूरा करने का एलान करते हुए गुरुवार को कहा कि राज्य में कांग्रेस का कोई प्रतिद्वंद्वी नहीं है, क्योंकि न तो अकाली और न ही आम आदमी पार्टी (आप) किसी तरह के मुकाबले में है।

साल 2017 के चुनाव में कांग्रेस ने जो वादा किये थे, उन्हें लेकर पंजाब की जनता को भरोसा दिलाते हुए सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि उनकी सरकार ने जो काम शुरू किया है उन्हें पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि घोषणापत्र के 85 प्रतिशत से अधिक वादे पहले ही लागू हो चुके हैं, जो किसी भी राज्य में किसी भी पार्टी के लिए एक रिकॉर्ड है। पिछला रिकॉर्ड आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू के पास था, जिसके तहत 81 प्रतिशत वादे पूरे किए गए। उन्होंने कहा, "लोग हमारे प्रदर्शन और प्रबंधन को देखेंगे।"

सभी किसानों के लिए कर्ज माफी के वादे और सभी बेरोजगार युवाओं को 2,500 रुपये महीने देने के बारे में सवाल किए जाने पर अमरिंदर सिंह ने कहा कि राज्य में राजकोषीय बाधाओं, विशेष रूप से कोविड के कारण, कुछ वादों को अब तक लागू नहीं किया जा सका। लेकिन राजस्व बढ़ने के साथ ही ये भी जल्द से जल्द पूरे होंगे। उन्होंने कहा कि वह अगले चुनावों से पहले सभी वादों को लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

साल 2022 के चुनाव में कांग्रेस का नेतृत्व करने और सीएम चेहरा होने के सवाल पर अमरिंदर सिंह ने कहा कि यह पार्टी प्रमुख को तय करना है। प्रशांत किशोर की नियुक्ति के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने जवाब दिया कि लोकतंत्र में हर नेता और पार्टी के पास रणनीतिकारों की एक टीम होती है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia