महंत नरेंद्र गिरि की मौत में आया नया एंगल, कमरे के अंदर से मिला बैग, जांच एजेंसी कनेक्शन ढूंढने में जुटी

अखाड़ा परिषद प्रमुख महंत नरेंद्र गिरि में एक और एंगल से मामले की जांच चल रही है। नरेंद्र गिरि के कमरे से मिले एक बैग मिला है। जांच एजेंसियां अब यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि बैग कौन लाया था और उसमें सिर्फ मिठाई थी या कुछ और।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अखाड़ा परिषद प्रमुख महंत नरेंद्र गिरि के कमरे से मिले एक बैग ने उनकी रहस्यमयी मौत में एक और मोड़ जोड़ दिया है। एक जांच अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि बैग पर बाबा मिठाई की दुकान, अलवर (राजस्थान) का नाम है। यह दुकान अपनी 'कलाकंद' मिठाइयों के लिए जानी जाती है। हालांकि बैग में कोई मिठाई का डिब्बा नहीं था।

जांच एजेंसियां अब यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि बैग कौन लाया था और उसमें सिर्फ मिठाई थी या कुछ और। यह बैग नया लग रहा है। अधिकारी ने कहा, "ऐसा प्रतीत होता है कि कोई हाल ही में अलवर से आया था और महंत से मिला था। हम उस व्यक्ति का पता लगाने और यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या उसके आनंद गिरि के साथ कोई संबंध है।" गौरतलब है कि आनंद गिरि राजस्थान के भीलवाड़ा का रहने वाला है।


सूत्रों ने कहा कि बागमभरी मठ के निवासी/कार्यकर्ता तेजी से रक्षात्मक हो रहे थे और दावा किया कि उन्हें हाल के हफ्तों में राजस्थान के किसी भी विजिटर के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। महंत के सुरक्षाकर्मियों से भी पूछताछ की जा रही है, उन्होंने विजिटर के बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia