कोरोना के कहर के बीच बिहार से शर्मसार करने वाली तस्वीर! कूड़े के ठेले पर शव ले जाते दिखे निगम कर्मी, वीडियो वायरल

नगर निगम के कूड़े के ठेले पर कोरोना मरीज का शव ले जाते वीडियो सामने आने के बाद बिहार सरकार और प्रशासन पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। सवाल यह है कि पहले तो लोग अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ रहे हैं। इसके बाद शवों का अपमान किया जा रहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देशभर में कोरोना वायरस जमकर कहर बरपा रहा है। वहीं, दूसरी तरफ स्वास्थ्य व्यवस्थाएं पूरी तरह चरमरा गई हैं। स्वास्थ्य व्यवास्थाओं की बिगड़ी तस्वीर अब बिहार से सामने आई है। आलम यह है कि यहां कोरोना वायरस से जान गंवाने वालों लोगों के शवों का अपमान किया जा रहा है। बिहार के नालंदा से परेशान करने वाला एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि नगर निगम के ठेले पर करोना से मरने वाले मरीज के शव को श्मशान घाट ले जाया जा रहा है।

वीडियो सामने आने के बाद बिहार सरकार और प्रशासन पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। सवाल यह है कि पहले तो लोग अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ रहे हैं। इसके बाद शवों का अपमान किया जा रहा है। जाहिर ऐसे ठेलों पर नगर निगम कचरे उठाने का काम करता है। ऐसे में सवाल यह कि क्या अब कचरे उठाने वाले ठेले पर शवों को ले जाया जाएगा? क्या सरकार एंबुलेंस तक इंतजाम नहीं कर सकती? यह घटना ऐसे समय में सामने आई है जब अभी कुछ दिन पहले ही जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष ने उन एंबुलेंस से पर्दा उठाया जो बीजेपी सांसद के सांसद निधि से खरीदे गए, लेकिन इनका इस्तेमाल नहीं किया जा रहा था।

पप्पू यादव द्वारा यह मामला उजागर करने के बाद बिहार की राजनीति में भूचाल आ गया था। मामले को उजागर करने वाले पप्पू यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने पप्पू यादव की गिरफ्तार पीर सफाई दी। गिरफ्तारी के पीछे पुलिस ने हवाला दिया था कि पप्पू यादव ने कोरोना लॉकडाउन का उल्लंघन किया था। जिसकी वजह से उन्हें गिरफ्तार किया गया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 17 May 2021, 10:02 AM