किसान आंदोलन पर सरकार में हलचल तेज, तोमर से मिलकर बोले खट्टर- एक-दो दिन में निकलेगा हल

दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर डटे किसानों का कहना है कि तब तक वापस नहीं जाएंगे जब तक सरकार तीनों काले कानून वापस नहीं लेती। सरकार से कई दौर की वार्ता फेल होने के बाद किसानों ने कहा है कि सरकार पहले इन कानूनों को वापस लेने का ऐलान करे, तभी अगली बातचीत होगी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलनरत किसानों और मोदी सरकार के बीच गतिरोध जारी है। इस बीच लगातार तेज होते आंदोलन से बीजेपी के अंदर हलचल तेज हो गई है। इसी कड़ी में शनिवार शाम को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने दिल्ली पहुंचकर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से उनके आवास पर मुलाकात की। मिली जानकारी के अनुसार इस दौरान दोनों नेताओं ने कृषि कानूनों पर चर्चा की।

कृषि मंत्री से मुलाकात के बाद सीएम खट्टर ने कहा कि दो-तीन दिन में मुद्दे का हल निकल जाएगा। सीएम खट्टर ने कहा कि किसानों से अगले एक-दो दिनों में बात हो सकती है। किसानों के मुद्दे का हल चर्चा के माध्यम से ही निकलेगा। खट्टर ने कहा कि मैंने कृषि मंत्री से कहा है कि इस मुद्दे को जल्द हल किया जाना चाहिए। खट्टर ने इसके बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात की।

बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर डटे किसानों के आंदोलन का आज 24वां दिन है। किसानों का कहना है कि तब तक वापस नहीं जाएंगे जब तक सरकार तीनों काले कानून वापस नहीं लेती। सरकार से कई दौर की वार्ता फेल होने के बाद किसानों ने ऐलान कर दिया है कि सरकार पहले कानूनों को वापस लेने का ऐलान करे, तभी अगली बातचीत होगी। वहीं इस आंदोलन के चलते दिल्ली के कई बॉर्डर बंद हैं और कई के रास्ते डायवर्ट किए गए हैं, जिससे आम लोगों को खासी परेशानी हो रही है।

इस बीच बता दें कि कल 20 दिसंबर को किसानों ने आंदोलन में मारे गए साथियों के सम्मान में देश भर में शहीद दिवस मनाने का एलान किया है। शनिवार को यूपी गेट पर किसान संगठनों ने 20 दिसंबर को किसान शहीद दिवस देश भर में मनाने का एलान किया। सरदार वीएम सिंह ने कहा कि मांगें न मानने तक आंदोलन जारी रहेगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय