चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के खिलाफ AAP ने किया भूख हड़ताल का ऐलान, कार्रवाई होने तक जारी रहेगा आंदोलन

आप के चंडीगढ़ सह-प्रभारी सनी अहलूवालिया ने कहा कि यह लोकतंत्र को बचाने के लिए क्रमिक भूख हड़ताल है और यह तब तक जारी रहेगी, जब तक चुनाव में धांधली के आरोपी पीठासीन अधिकारी अनिल मसीह के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती और बीजेपी के फर्जी मेयर को नहीं हटाया जाता।

चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के खिलाफ AAP ने किया भूख हड़ताल का ऐलान
चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के खिलाफ AAP ने किया भूख हड़ताल का ऐलान
user

नवजीवन डेस्क

चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के खिलाफ आंदोलन कर रहे आम आदमी पार्टी (आप) नेताओं ने सेक्टर 17 में नगर निगम कार्यालय के सामने क्रमिक भूख हड़ताल करने की घोषणा की है। आप ने कहा है कि यह अनशन तब तक जारी रहेगा जब तक आरोपी पीठासीन अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती और बीजेपी के "फर्जी मेयर" को नहीं हटाया जाता।

आप के चंडीगढ़ के सह-प्रभारी सनी अहलूवालिया ने आंदोलन की जानकारी देते हुए मीडिया से बताया कि प्रतिदिन पार्टी के पांच नेता, जिनमें एक पार्षद और चार स्वयंसेवक शामिल रहेंगे, 24 घंटे के लिए भूख हड़ताल पर रहेंगे और फिर अगले दिन अन्य पांच नेता लोकतंत्र के हत्यारों के खिलाफ उपवास करेंगे।


आप नेता ने कहा कि यह लोकतंत्र को बचाने के लिए क्रमिक भूख हड़ताल है और यह तब तक जारी रहेगी, जब तक चुनाव में धांधली के आरोपी चुनाव पीठासीन अधिकारी अनिल मसीह के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती और बीजेपी के "फर्जी मेयर" को नहीं हटाया जाता है। उन्होंने कहा कि मसीह बीजेपी के अल्पसंख्यक विंग के सचिव हैं। उन्होंने 30 जनवरी को चंडीगढ़ में लोकतंत्र की हत्या की है।

अहलूवालिया ने कहा कि प्रदीप छाबड़ा और चंद्रमुखी शर्मा समेत आप के सभी वरिष्ठ नेताओं ने इसके खिलाफ प्रदर्शन करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा आप चंडीगढ़ के रोज गार्डन और सुखना झील जैसे प्रमुख स्थानों पर भी कैंडल मार्च आयोजित करेगी।अहलूवालिया ने कहा, "हम बीजेपी की तानाशाही के खिलाफ जागरूकता बढ़ाने के लिए घर-घर भी जाएंगे।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;