बंगाल चुनाव से पहले ममता के भतीजे अभिषेक पर शिकंजा, साली के घर पहुंची सीबीआई, कल पत्नी की बारी

अभिषेक बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी के भतीजे हैं। सीबीआई ने यह कार्रवाई तब की है जब राज्य के चुनाव होने में कुछ ही समय बाकी है। साफ है कि चुनाव तक तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी के बीच की लड़ाई अभी और तीखी होगी।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से ठीक पहले तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी की साली को अवैध कोयला तस्करी मामले में तलब करने के एक दिन बाद केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की टीम पूछताछ करने के लिए आज उनके घर पहुंच गई है। सीबीआई के अधिकारियों के अनुसार, जांच अधिकारी उमेश कुमार के नेतृत्व वाली 8 सदस्यों की टीम उनके घर पर पहुंची है। इस टीम में 2 महिला अधिकारी भी हैं। टीम बैंकिंग लेनदेन के संबंध में पूछताछ करेगी।

रविवार को ही सीबीआई का समन प्राप्त करने वाली अभिषेक की पत्नी रुजिरा बनर्जी ने सीबीआई अधिकारियों से मंगलवार की सुबह 11 बजे से 3 बजे के बीच अपने हरीश मुखर्जी रोड स्थित आवास पर पूछताछ करने के लिए कहा है। सीबीआई के नोटिस के एक दिन बाद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजीरा ने सोमवार को इसका जवाब दिया, जिसमें उन्होंने कहा कि वह केंद्रीय जांच एजेंसी द्वारा पूछताछ के लिए पूरी तरह तैयार हैं। रूजीरा ने कहा कि उन्हें यह नहीं पता कि आखिर उन्हें पूछताछ के लिए क्यों बुलाया जा रहा है और जांच का विषय क्या है।

गौरतलब है कि रविवार दोपहर सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा की पांच सदस्यीय टीम अभिषेक बनर्जी के दक्षिण कोलकाता स्थित आवास पर पहुंंची थी और उन्हें नोटिस जारी किया था। इस नोटिस के माध्यम से अभिषेक की पत्नी को पूछताछ के लिए बुलाया गया था। सूत्रों ने बताया कि जब सीबीआई की टीम रविवार दोपहर 2 बजे के आसपास शांति निकेतन नामक इमारत में पहुंची तो वहां रूजीरा मौजूद नहीं थी। सीबीआई की छापेमारी के बाद घर के चारों ओर पुलिस की एक टुकड़ी तैनात कर दी गई।

इससे पहले सीबीआई ने अवैध कोयला तस्करी मामले में जांच के सिलसिले में रूजीरा की बहन मेनका गंभीर के निवास पर तलाशी ली थी और उन्हें भी पूछताछ के लिए तलब किया था। महिला अधिकारियों के साथ सीबीआई की एक टीम सोमवार को दोपहर 12 बजे मेनका के आवास पर पहुंची। उमेश कुमार के नेतृत्व में पहुंची टीम को कुछ समय के लिए मुख्य द्वार पर इंतजार करना पड़ा। बाद में उन्हें ऊपर जाने की अनुमति मिल गई। मेनका कोलकाता के ईएम बाईपास के पास उपोहार लक्जरी कॉम्प्लेक्स (टॉवर -3) में रहती हैं।

वहीं, सीबीआई की इस ताजा कार्रवाई के बाद अभिषेक ने रविवार को कहा कि उन्हें कानून पर पूरा भरोसा है। एक ट्वीट कर अभिषेक ने कहा, "आज दोपहर 2 बजे सीबीआई ने मेरी पत्नी को नोटिस भेजा है। हमें कानून पर पूरा भरोसा है, लेकिन यदि उन्हें लगता है कि वे हमें डराने के लिए ये सब कर रहे हैं तो यह उनकी गलती है। हम उनमें से नहीं हैं, जो झुक जाएंगे।" वहीं इस मसले पर टीएमसी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा, "इसमें कोई नई बात नहीं है। विधानसभा चुनाव से पहले अभिषेक बनर्जी की छवि खराब करने के लिए बीजेपी केंद्रीय एजेंसियों का उपयोग कर रही है। सीबीआई का नोटिस भी इसीलिए भेजा गया है।"

बता दें कि सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा ने पिछले साल नवंबर में कोयले की अवैध चोरी के मामले में पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के 45 विभिन्न स्थानों पर छापे मारे थे। सीबीआई ने बर्दवान जिले के आसनसोल, दुर्गापुर, और रानीगंज के साथ-साथ दक्षिण 24-परगना जिलान्तर्गत बिष्णुपुर के किंगपिन अनूप माझी उर्फ लाला के कार्यालयों और घरों पर भी छापा मारा था। इसके बाद एजेंसी ने कोयला माफिया अनूप माझी उर्फ लाला, उसके सहायक जे.मंडल और अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। सीबीआई की ताजा कार्रवाई इसी मामले में बताई जा रही है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next