श्रीलंका के बाद आतंकियों के निशाने पर भारत, कर्नाटक डीजीपी ने 8 राज्यों को किया अलर्ट  

श्रीलंका में सिलसिलेवार धमाके करने के बाद भारत में आतंकवादी हमले करनी की योजना बना रहे हैं। इसे लेकर कर्नाटक पुलिस ने अलर्ट जारी किया है। आतंकी आठ राज्यों को दहलाने की कोशिश कर सकते हैं।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

श्रीलंका में ईस्टर के दिन हुए आतंकी हमलों के बाद भारत में भी आतंकी हमले का अलर्ट जारी कर दिया गया है। भारत के तटीय राज्यों में कोस्ट गार्ड, कोस्टल मरीन पुलिस सब अलर्ट पर हैं और समुंद्री हलचल पर हर पैनी नजर रखे हुए हैं। खूफिया एजेंसियों के अनुसार, श्रीलंका में हमला करने के बाद आतंकी भारत का रुख कर सकते हैं और इसके लिए वो समुद्र के रास्ते आ सकते हैं। इसी बीच बेंगलुरु के रहने वाले एक शख्स ने फोनकर पुलिस को सूचना दी है कि आतंकी भारत के 8 राज्यों पर हमला करने की फिराक में है। इस फोन ने सुरक्षा एजेंसियों की परेशानी बढ़ा दी है।

वहीं कर्नाटक के डीजीपी-आईजीपी ने 8 संबंधित राज्यों- आंध्रप्रदेश, केरल, तमिलनाड़ु, पुदुचेरी, गोवा और महाराष्ट्र के डीजीपी को खत लिखकर अलर्ट रहने को कहा है।

कर्नाटक के पुलिस आयुक्त ने इसे लेकर एक पत्र जारी किया है। उन्होंने लिखा है, “एक शख्स जिसने दावा किया है कि वह एक लॉरी ड्राइवर है। उसने कंट्रोल रुम में फोन करके बताया कि उसके पास सूचना है कि 8 राज्यों को आतंकी निशाना बना सकते हैं। यह आतंकी हमले ज्यादातर ट्रेन में हो सकते हैं। उसका दावा है कि तमिलनाडु के रामनाथपुरम में इस समय 19 आतंकी मौजूद हैं। कृपया कानून व्यवस्था को बनाए रखने और किसी भी अप्रिय घटना को होने से रोकने के लिए एहतियातन उपाय उठाए जाएं।”

हालांकि बेंगलुरु एसपी ने जांच के दौरान इसे फेक कॉल बताया है। इस मामले पर बेंगलूरू ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक का बयान आया है। उन्होंने कहा, “यह एक झूठी कॉल थी। 65 साल के लॉरी ड्राइवर का नाम सुंदर मूर्ति है और वह एक सेवानिवृत्त सेना का जवान है। उसे फर्जी कॉल करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।”

गौरतलब है कि 21 अप्रैल को ईस्टर के दिन सीरियल ब्लास्ट से पड़ोसी देश श्रीलंका दहल गया था। धमाकों में 253 लोगों की मौत हुई थी और 500 लोग घायल हुए थे। श्रीलंका में सिलसिलेवार बम धमाकों के बाद सुरक्षा बलों की तरफ से ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है।

Published: 27 Apr 2019, 8:54 AM
लोकप्रिय