लॉकडाउन में साफ हुई दिल्ली की हवा एक ही झटके में फिर खराब, आतिशबाजी के चलते गुणवत्ता में आई गिरावट

दिल्ली-एनसीआर में सालों बाद लोगों को साफ और नीला आसमान देखने को मिला। लोग पिछले कई दिनों से अपने-अपने इलाकों से आसमान और अपने आसपास की तस्वीरें सोशल मीडिया पर डालकर खुशी जता रहे थे कि कई सालों बाद राजधानी में ऐसा वातावरण देखने को मिल रहा है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर देशव्यापी लॉकडॉउन की घोषणा के बाद से देश की राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में सुधार आने से वायु गुणवत्ता सूचकांक लगातार बेहतर होता जा रहा था। लेकिन बीती रात पीएम मोदी के आह्वान पर दिया जलाने के कार्यक्रम के दौरान जमकर हुई आतिशबाजी के कारण फिर से हवा की गुणवत्ता खराब हो गई है। करीब 13 दिन से जारी लॉकडाउन के सामने आए फायदे पर कुछ घंटों की आतिशबाजी ने एक तरह से पानी फेर दिया।

सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फॉरकास्टिंग एंड रिसर्च यानी सफर के अध्ययन के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की हवा की गुणवत्ता- बढ़िया वाली श्रेणी से फिसलकर संतोषप्रद की श्रेणी में आ गई है। सफर के अनुसार, दिल्ली में सोमवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक 87 था और वायु के प्रमुख घटक पीएम-10 और पीएम-2.5 क्रमश: 87 और 47 पाए गए। लेकिन बीती रात दिल्ली-एनसीआर में जमकर हुई आतिशबाजी के बाद वायु की गुणवत्ता में भारी कमी आ गई है।


करीब 12 दिन से लॉकडाउन की वजह से बंद कल-कारखानों और गाड़ियों पर रोक की वजह से पूरे देश समेत राजधानी दिल्ली में प्रदूषण में उल्लेखनीय कमी आई थी। सफर के अनुसार, लॉकडाउन के दौरान दिल्ली की हवा में पीएम-2.5 की मात्रा 49 फीसदी तक घट गई थी। दिल्ली-एनसीआर में सालों बाद लोगों को साफ और नीला आसमान देखने को मिला। लोग पिछले कई दिनों से अपने-अपने इलाके से आसमान और अपने आसपास की तस्वीरें सोशल मीडिया पर डालकर खुशी जता रहे थे कि कई सालों बाद राजधानी में ऐसा वातावरण देखने को मिल रहा है। लेकिन बस एक दिन की पीएम की अपील ने फिर से सबकुछ बदल दिया।

बता दें कि कोरोनावायरस के खिलाफ छिड़ी जंग में प्रधानमंत्री ने देशवासियों से रविवार की रात 9 बजे घरों की बत्तियां बुझाकर दीये जलाने की अपील की थी, जोकि कोरोना जैसी महामारी को मात देने का जज्बा पैदा करने की दिशा में एक कोशिश थी और पूरे देश में लोगों ने प्रधानमंत्री की अपील पर बीती रात नौ बजे दीये जलाकर एकजुटता दिखाई और इसे कई लोगों ने दिवाली के उत्सव का रूप दे दिया और जमकर इस दौरान आतिशबाजी की।

(नवजीवन के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;