हिन्दू महासभा ने मनाया गोडसे का जन्मदिन, चिट्ठी लिख राष्ट्रपति से की राजघाट से गांधी समाधि हटाने की मांग 

रविवार को मेरठ में अखिल भारतीय हिन्दू महासभा द्वारा गोडसे का जन्मदिन मनाया गया। महासभा के उपाध्यक्ष पंडित अशोक ने राष्ट्रपति को चिट्ठी लिख कर राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि को तोड़े जाने की भी मांग की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लोकसभा चुनाव के दौरान नाथूराम गोडसे को लेकर बयानबाजी तूल पकड़ती नजर आरही है। साध्वी प्रज्ञा के देशभक्त वाले बयान के बाद अब मेरठ में अखिल भारतीय हिंदू महासभा के सदस्यों ने रविवार को महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का जन्मदिन मनाया। इस दौरान महासभा के सदस्यों ने यज्ञ किया और मिठाईयां बांटी।

कार्यक्रम का आयोजन हिंदू महासभा के उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा और सभा के अन्य कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया। हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को देश के बंटवारे के लिए जिम्मेवार ठहराया। उन्होंने कहा कि नाथूराम गोडसे ने धर्म की रक्षा के लिए महात्मा गांधी की हत्या की थी।

इसके अलावा हिंदू महासभा के उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने राजघाट घाट स्थित गांधी समाधि को तोड़कर गांधी की वजह से मारे गए लोगों के स्मारक बनवाने की मांग को लेकर राष्ट्रपति कोविंद को एक खत लिखा है। सभा में मौजूद सभी लोगों ने अपने सीने पर `गर्व से कहों मैं नाथूराम गोडसे’ लिखे पोस्टर लगाए हुए थे।

हालांकि गोडसे के जन्मदिन मनाने और महात्मा गांधी की आलोचना किये जाने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इसे पहले भी हिन्दू महासभा इस तरह के आयोजनों में गोडसे का महिमामंडन कर चुकी है। इसी साल 30 जनवरी को महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर हिन्दू महासभा द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में महात्मा गांधी के प्रतीकात्मक पुतले में गोली मारी गई थी। इस घटना के बाद हिंदू महासभा की कड़ी आलोचना की गई थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय