योगी के अयोध्या से चुनाव नहीं लड़ने पर अखिलेश का तंज, बोले- वह बीजेपी के सदस्य नहीं, इसलिए घर भेजा गया

अखिलेश यादव ने आज लखनऊ में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि बीजेपी के मंत्रियों और विधायकों के लिए अब समाजवादी पार्टी के दरवाजे बंद हो गए हैं। बीजेपी अब किसी का भी टिकट काटे, समाजवादी पार्टी उन्हें नहीं लेगी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

यूपी चुनाव में सीएम योगी के गोरखपुर से चुनाव लड़ने के ऐलान पर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए कहा कि वह बीजेपी के नहीं हैं इसलिए उन्हें अपने घर भेज दिया है। उन्होंने कहा कि अयोध्या, मथुरा तो कभी प्रयागराज से चुनाव लड़ने की बात होती थी, लेकिन अब बीजेपी को भी समझ आ गया।

अखिलेश यादव ने आज लखनऊ में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अयोध्या, मथुरा तो कभी प्रयागराज से चुनाव लड़ने की बात होती थी, लेकिन अब भारतीय जनता पार्टी को समझ में आ गया है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के मंत्रियों और विधायकों के लिए अब सपा के दरवाजे बंद हो गए हैं। भाजपा अब किसी का भी टिकट काटे, सपा उन्हें नहीं लेगी।


भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर के बारे में बात करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, 'रामपुर मनिहारन और गाजियाबाद की सीट पर चन्द्रशेखर रावण से बात की गई। लेकिन, वह खुद कुछ स्पष्ट नहीं कर पाए। सपा जोड़ने का कार्य कर रही है, तोड़ने का नहीं। इसीलिए हमने अपने लोगों को थोड़ा पीछे करके, दूसरी पार्टी के नेताओं को जगह दी है। हालांकि, अब गुंजाइश नहीं है।'

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सभी सपा कार्यकर्ताओं से चुनाव आयोग द्वारा जारी की गई गाइडलाइन और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं को घर में रहने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि समाजवादी गठबंधन के साथ प्रदेश की 80 फीसद जनता है। अब बीजेपी की विदाई तय है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia