हालात

सीएम योगी के राम मंदिर पर दिए बयान पर अखिलेश यादव का पलटवार, कहा- पहले किसानों को बचाकर दिखाएं 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 24 घंटे में राम मंदिर मुद्दा सुलझाने के दावे पर पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि वे पहले 90 दिनों में आवारा पशुओं से किसानों की फसल बचाकर दिखाएं।

फोटो: सोशल मीडिया 

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के बयान पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा, “अगर कोई मुख्यमंत्री 26 जनवरी को मौके पर ऐसी चीजें कहता है तो आप सोच सकते हैं कि वे किस तरह के मुख्यमंत्री हैं।” बता दें कि शनिवार को योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि राम मंदिर मसले पर लोगों का धैर्य खत्म हो रहा है और सुप्रीम कोर्ट इस विवाद पर जल्द आदेश देने में असमर्थ है इसलिए इसे हमारे हवाले कर देना चाहिए और 24 घंटे के भीतर इसका समाधान हो जाएगा।”

अखिलेश यादव ने आगे कहा, “मैं मुख्यमंत्री से कहता चाहता हूं कि जनता उन्हें 90 दिन दे चुकी है। जानवरों से फसलों को बचाने के लिए कुछ करें। किसानों को पहले बचाना जरूरी है।”

गौरतलब है कि पिछले दिनों आवारा पशुओं द्वारा फसल नष्ट किए जाने से परेशान किसानों ने योगी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था।

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर तंज करते हुए आगे कहा, “यह कुंभ तभी सफल होगा जब बेरोजगार युवकों को नौकरी मिलेगी। किसानों के घर खुशहाली आएगी। आज सांडों की वजह से राज्य के किसान परेशान हैं। सरकार को किसानों की फसल बचाने के लिए ठोस कदम उठाने चाहिए।”

बता दें कि सीएम योगी ने राम मंदिर को लेकर एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि अगर सुप्रीम कोर्ट जल्द ही इस मामले पर फैसला नहीं सुना सकती है तो यह काम हमारे हाथ में सौंप दे। 24 घंटे के अंदर राम मंदिर का मामला सुलझा दिया जाएगा। मैं कोर्ट से यह अपील करूंगा कि राम मंदिर मामले पर जल्द से फैसला करें। अनावश्यक रूप से इस मामले में देर की जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि इस फैसले से करोड़ों लोगों को संतोष मिलेगा क्योंकि यह उनकी आस्था का सवाल है।

Published: 28 Jan 2019, 9:02 AM
लोकप्रिय