DUSU चुनाव में पक्षपात के आरोप, NSUI ने प्रशासन की मदद से फर्ज़ी वोटिंग का किया दावा, DU ने बताया निराधार

एनएसयूआई ने आरोप लगाया कि यह चुनाव छात्र बनाम सरकार है। छात्र इसका जवाब वोट से देंगें। एनएसयूआई के नीतेश ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन ज़बरदस्ती दूसरे पक्ष के समर्थन में वोट डलवाने का दबाव बना रहा है।

DUSU चुनाव में पक्षपात के आरोप, NSUI ने प्रशासन की मदद से फर्ज़ी वोटिंग का किया दावा
DUSU चुनाव में पक्षपात के आरोप, NSUI ने प्रशासन की मदद से फर्ज़ी वोटिंग का किया दावा
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के लिए आज हुई वोटिंग के दौरान पक्षपात के आरोप लगे हैं। कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई से जुड़े छात्रों ने आरोप लगाया है कि प्रशासन की सांठ-गांठ से लक्ष्मी बाई कॉलेज समेत कई कॉलेजों में फर्ज़ी वोटिंग कराई गई है। हालांकि, डीयू प्रशासन ने इन आरोपों को पूरी तरह से निराधार और मनगढ़ंत बताया है।

एनएसयूआई के छात्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय प्रशासन पूरी तरह से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की कठपुतली बनकर रह गया है। शुक्रवार को दिल्ली विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनाव के दौरान एनएसयूआई के छात्रों ने कहा कि छात्रसंघ चुनाव के दौरान यहां एनएसयूआई के प्रत्याशियों तक को कॉलेज के अंदर नहीं जाने दिया गया।


एनएसयूआई ने आरोप लगाया कि यह चुनाव छात्र बनाम सरकार है। छात्र इसका जवाब वोट से देंगें। एनएसयूआई के नीतेश ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन ज़बरदस्ती दूसरे पक्ष के समर्थन में वोट डलवाने का दबाव बना रहा है। इसीलिए हम कह रहे हैं कि छात्रसंघ का यह चुनाव छात्र बनाम सरकार चुनाव है।

हालांकि, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने इस प्रकार के सभी आरोपों को झूठा करार दिया है। विद्यार्थी परिषद का कहना है कि छात्र अपनी इच्छा से मतदान कर रहे हैं और छात्रों में मतदान को लेकर अच्छा खासा उत्साह भी देखा जा सकता है। एबीवीपी के ही सुर में सुर मिलाते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने एनएसयूआई के आरोपों को सिरे से ही खारिज कर दिया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;