ओमिक्रॉन से दहशत के बीच मथुरा में 3 विदेशी नागरिक कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

रैपिड रिस्पांस टीम के नोडल प्रभारी डॉ भूदेव ने कहा कि लिथुआनिया, स्पेन और स्विटजरलैंड के विदेशी नागरिकों का उनके मूल देशों के लिए निर्धारित प्रस्थान से पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया था, वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

विदेशों में पाए जाने वाले अत्यधिक संक्रामक कोविड वैरिएंट ओमाइक्रोन पर चिंताएं बढ़ गई हैं। वहीं वृदावन में बीते 48 घंटे में पांच लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसमें तीन विदेशी नागरिक भी शामिल है। वायरस के वेरिएंट का निर्धारण करने के लिए उनके नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजे गए हैं।

रैपिड रिस्पांस टीम के नोडल प्रभारी डॉ भूदेव ने कहा कि लिथुआनिया, स्पेन और स्विटजरलैंड के विदेशी नागरिकों का उनके मूल देशों के लिए निर्धारित प्रस्थान से पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया था, वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें से केवल एक लिथुआनिया की एक महिला को पूरी तरह से टीका लगाया गया था। ये सभी कृष्ण भक्त हैं जो वृंदावन के गिरधर धाम में ठहरे हुए थे और टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे। अन्य दो कोविड पॉजिटिव मरीज स्थानीय हैं।


भूदेव ने कहा कि गिरधर धाम, जहां 16 लोग ठहरे हुए थे, को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। इन कोविड पॉजिटिव रोगियों के संपर्क में आए कुल 44 लोगों का भी वायरस परीक्षण किया गया है और उनकी रिपोर्ट का इंतजार है।

स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि लिथुआनिया की महिला 30 साल की है, स्पेनिश 44 वर्षीय महिला है और स्विस नागरिक 47 वर्षीय पुरुष है। उनकी हालत स्थिर है और उन्हें आश्रम में आइसोलेट कर दिया गया है।

जिला मजिस्ट्रेट नवनीत सिंह चहल ने कहा कि विदेशी नागरिकों का परीक्षण एहतियात के तौर पर किया जाएगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia