दिल्ली कोर्ट में शूटआउट से नाराज वकील करेंगे हड़ताल, कांग्रेस ने कहा- अपराधियों की राजधानी बनी देश की राजधानी

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष ने आंकड़े देते हुए कहा कि दिल्ली में मर्डर, हत्या फिरौती सहित तमाम अपराध में 2015 और 2019 के दौरान 57 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इसी तरह दिल्ली में महिलाओं के खिलाफ अपराध में 2015 और 2020 के दौरान 42 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

राजधानी दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को एक जज की अदालत में हुए शूटआउट के खिलाफ वकीलों में नाराजगी है। घटना से नाराज दिल्ली की विभिन्न अदालतों के वकीलों ने एक दिन की हड़ताल बुलाने का ऐलान किया है। अपना विरोध जताने के लिए वकीलों ने शनिवार को राजधानी दिल्ली की सभी जिला अदालतों में एक दिन की हड़ताल बुलाई है। इस दौरान कोई भी वकील काम नहीं करेगा।

वहीं राजधानी के अतिसुरक्षित कोर्ट में दिनदहाड़े फायरिंग की वारदात को लेकर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस ने गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री पर निशाना साधा। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा कि दिनदहाड़े गोली चलना यह साबित करता है कि दिल्ली में जंगलराज कायम है। उन्होंने कहा कि देश की राजधानी अब अपराधियों की राजधानी बन गई है।

दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं, मुख्यमंत्री चुनाव यात्रा में व्यस्त हैं, वहीं गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा, "कोर्ट में करीब 40 राउंड गोलियां चलने से जज, वकील और अन्य लोगों जान खतरे में थी। यह घटना दर्शाती है कि खुफिया तंत्र पूरी तरह विफल हो चुका है, जबकि दिल्ली पुलिस को खुफिया तंत्र से जानकारी मिली थी कि इस तरह की घटना होगी। एक मृतक ने एक वीडियो डालकर हमले की आशंका जताई थी, उसके बाद भी खुलेआम इस तरह की घटना हुई।"


दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष ने आंकड़े देते हुए कहा कि दिल्ली में मर्डर, हत्या फिरौती सहित तमाम अपराध में 2015 और 2019 के दौरान 57 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इसी तरह दिल्ली में महिलाओं के खिलाफ अपराध में 2015 और 2020 के दौरान 42 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पिछले वर्ष 15 अगस्त और इस साल 15 अगस्त के दौरान बलात्कार के मामले में 36 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

बता दें कि शुक्रवार को दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में पेशी के दौरान कुख्यात बदमाश गोगी पर कुछ लोगों ने फायरिंग कर दी जिसमें वह मारा गया है। वहां मौजूद पुलिस ने भी बदमाशों की फायरिंग का जवाब दिया और दोनों हमलावरों को मार गिराया। दोनों हथियारबंद बदमाश वकील के वेश में आए थे और इसके चलते ही उन्हें पहचाना नहीं जा सका। पुलिस सूत्रों के मुताबिक टिल्लू ताजपुरिया गैंग ने वकील की ड्रेस में गोगी पर हमला किया। वहीं इस घटना से कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia