पश्चिम बंगाल में हार के बाद बीजेपी को एक और बड़ा झटका, मुकुल रॉय ने TMC में की घरवापसी

कद्दावर नेता मुकुल रॉय के टीएमसी में वापस आने से बीजेपी में गए टीएमसी के और भी कई नेताओं के पार्टी में वापस लौटने की संभावना है। चर्चा है कि चुनाव में ममता बनर्जी को मिली बड़ी जीत के बाद कई पुराने सहयोगी टीएमसी में वापस आना चाहते हैं।

फोटोः @MukulRoy
फोटोः @MukulRoy
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में एड़ी-चोटी का जोर लगाने के बावजूद करारी हार मिलने के बाद बीजेपी को आज फिर बंगाल में एक बड़ा झटका लगा है। बीजेपी के बड़े नेता मुकुल रॉय अपने बेटे शुभ्रांशु के साथ वापस तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। टीएमसी प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और सांसद अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में उन्होंने टीएमसी मे वापसी की है।

इस दौरान ममता बनर्जी के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मुकुल रॉय ने कहा कि मैं बीजेपी छोड़कर टीएमसी में आया हूं। उन्होंने कहा कि अभी पश्चिम बंगाल में जो स्थिति है, उस स्थिति में कोई भी बीजेपी में नहीं रहेगा। मुकुल रॉय इस समय कृष्णानगर उत्तर सीट से विधायक हैं। संभावना है कि टीएमसी में जाने के बाद वह इस्तीफा देंगे और उपचुनाव में उनके बेटे शुभ्रांसु रॉय यहां से टीएमसी के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं।

वहीं, ममता बनर्जी ने मुकुल रॉय का स्वागत करते हुए कहा कि “बीजेपी में बहुत ज्यादा शोषण है। बीजेपी सामान्य लोगों की पार्टी नहीं है। ममता ने कहा कि मुकुल रॉय घर का लड़का है, आज उनकी वापसी हुई है। मेरा मुकुल के साथ कोई मतभेद नहीं है।” इसके साथ ही ममता ने कहा कि जिन्होंने टीएमसी से गद्दारी की है, उनको पार्टी में नहीं लेंगे। बाकी लोग पार्टी में वापस आ सकते हैं।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल चुनवा के लिए जब बीजेपी ने अपना अभियान शुरू किया था तो मुकुल रॉय टीएमसी छोड़ बीजेपी में जाने वाले सबसे पहले बड़े नेता थे। उस समय वह ममता बनर्जी के सबसे खास माने जाते थे और टीएमसी में ममता के बाद नंबर दो की हैसीयत रखते थे। लेकिन पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण उन्हें टीएमसी से बाहर कर दिया गया था। जिसके बाद उन्होंने बीजेपी ज्वाइन कर लिया था।

मुकुल रॉय के टीएमसी में वापस आने से बीजेपी में गए और भी कई नेताओं के पार्टी में वापस लौटने की संभावना है। बता दें कि चुनाव में ममता बनर्जी को मिली बड़ी जीत के बाद कई पुराने सहयोगी टीएमसी में वापस आना चाहते हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में बीजेपी को बंगाल में और भी बड़े झटके लग सकते हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia