पश्चिम बंगाल में बीजेपी को लगा एक और झटका, विधायक तन्मय घोष TMC में हुए शामिल, भगवा पार्टी पर लगाया गंभीर आरोप

इस मौके पर शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु ने कहा कि हम बीजेपी से राजनीतिक रूप से लड़ेंगे। वह पश्चिम बंगाल के लोगों को छोटा करने की भी कोशिश कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी के कई नेता तृणमूल के संपर्क में हैं। लेकिन अंतिम फैसला पार्टी नेतृत्व करेगा।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

मुकुल रॉय के बाद आज एक और बीजेपी विधायक पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। सोमवार को एक समारोह में बांकुरा जिले के बिष्णुपुर से बीजेपी विधायक तन्मय घोष ने राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु के समक्ष तृणमूल का झंडा थाम लिया और बीजेपी पर 'प्रतिशोध की राजनीति में लिप्त' होने का आरोप लगाया।

तन्मय घोष ने पत्रकारों से बात करते हुए दावा किया कि बीजेपी पश्चिम बंगाल के लोगों के बीच अराजकता फैलाने का भी प्रयास कर रही है, जिस कारण वह सत्ताधारी पार्टी में फिर से शामिल हो गए। उन्होंने कहा, "मैं सभी से पश्चिम बंगाल के कल्याण के लिए तृणमूल में शामिल होने का आग्रह करता हूं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के हाथ मजबूत करने की जरूरत है।"


विधायक तन्मय घोष राज्य में मार्च में हुए विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले तृणमूल छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए थे। इससे पहले, वह बांकुरा के बिष्णुपुर शहर के तृणमूल युवा अध्यक्ष और स्थानीय नागरिक निकाय के पार्षद भी रहे थे।

वहीं, इस मौके पर शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु ने कहा कि हम बीजेपी से राजनीतिक रूप से लड़ेंगे। यह पश्चिम बंगाल के लोगों को छोटा करने की भी कोशिश कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी के कई नेता तृणमूल के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा, "हम सभी से तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने की अपील करते हैं, लेकिन अंतिम फैसला पार्टी नेतृत्व करेगा।"

शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु ने यह भी कहा कि जब ममता बनर्जी त्रिपुरा में कदम रखेंगी, तो सुनामी आ जाएगी। उस राज्य के बीजेपी नेता इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी के नेतृत्व में त्रिपुरा भय की घाटी में तब्दील हो गया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia