इंफोसिस सीईओ के खिलाफ एक और व्हिसलब्लोअर का पत्र आया सामने, कंपनी के खर्च पर की गईं अमेरिका की यात्राएं

इंफोसिस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सलिल पारेख के खिलाफ आरोपों की झड़ी लगाते हुए दूसरे व्हिसलब्लोअर ने उनके खिलाफ कई खुलासे किए हैं। इसमें कंपनी द्वारा प्रायोजित बहुत-सी यात्राएं और एटीपी टूर्नामेट में सीटें उपलब्ध कराएं जाने का आरोप है।

फोटो : आईएएनएस
फोटो : आईएएनएस
user

आईएएनएस

व्हिसलब्लोअर ने कंपनी के चेयरमैन व को-फाउंडर नंदन नीलेकणि व बोर्ड के स्वतंत्र निदेशकों को लिखे अपने अहस्ताक्षरित व बिना तारीख वाले पत्र में कहा, "सलिल पारेख अपने ग्रीन कार्ड स्टेट्स को बनाए रखने के लिए हर महीने अमेरिका का दौरा करते रहते हैं। मैंने यह भी सुना है कि वह कई मौकों पर अमेरिका गए, लेकिन किसी ग्राहक या हमारे कार्यालय नहीं गए। फिर उनकी यात्रा का क्या उद्देश्य है? यह साफ है कि वह आप से झूठ बोल रहे हैं।"

व्हिसलब्लोअर ने अपने को कंपनी के वित्त विभाग का कर्मचारी बताया है। व्हिसलब्लोअर ने शिकायत की कि वह बड़े खुलासे करने की वजह से अपने खिलाफ बदले की कार्रवाई के डर से अपनी पहचान जाहिर करने में असमर्थ है।

आईएएनएस को सूत्रों द्वारा प्राप्त हुई शिकायत में कर्मचारी ने कहा, "मैं वित्त विभाग में काम करने वाला कर्मचारी हूं। मैं इस शिकायत को प्रस्तुत कर रहा हूं। मामला बेहद संवेदनशील है कि अगर मैं अपनी पहचान जाहिर करता हूं तो मुझे बदले में कार्रवाई का डर है। कृपया मुझे इसके लिए क्षमा करें, लेकिन मामला काफी महत्वपूर्ण है।"

दूसरे व्हिसलब्लोअर के बोर्ड को लिखे पत्र पर देर से आई प्रतिक्रिया में इंफोसिस ने मंगलवार को आईएएनएस से एक ईमेल में कहा कि बिना तरीख वाले व्हिसलब्लोअर की शिकायत में बड़े स्तर पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी के मुंबई व अमेरिका की अंतर्राष्ट्रीय यात्राओं से जुड़े आरोप हैं।

नीलेकणि के 21-22 अक्टूबर के बयान को स्वीकार करते हुए कंपनी ने कहा, "बोर्ड के एक सदस्य ने 30 सितंबर को दो अनाम शिकायतें प्राप्त की। इसका शीर्षक 'अनैतिक कार्यो से परेशानी' व दूसरी बिना तारीख वाली का शीर्षक 'व्हिसलब्लोअरशिकायत' है।"

व्हिसलब्लोअर ने दावा किया, "वह (पारेख) कंपनी के ग्लोबल एकेडमिक रिलेशंस (जीएआर) टीम के संबंधों का इस्तेमाल अपने बच्चों के लिए प्रतिष्ठित संस्थानों में सीट सुरक्षित करने के लिए कर रहे हैं।" उद्योग-अकादमिक संबंधों के हिस्से के रूप में जीएआर टीम दुनिया भर के विश्वविद्यालयों से कंपनी संपर्क स्थापित करती है। यह इनस्टेप का हिस्सा है, जो कि एक महत्वपूर्ण इंटर्नशिप कार्यक्रम है।

लोकप्रिय
next