योगी सरकार से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, 2014 के केस में कार्रवाई

चुनाव से ठीक पहले स्वामी प्रसाद मौर्य के योगी सरकार से इस्तीफा देने के बाद तीन और विधायकों ने बीजेपी छोड़ दिया था। इसके बाद आज वन मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। ऐसे में मौर्य के खिलाफ वारंट को दबाव की राजनीति माना जा रहा है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी की योगी सरकार से इस्तीफी देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ एमपी-एमएलए कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। मौर्य के खिलाफ यह वारंट साल 2014 में आपत्तिजनक भाषण देने के मामले में जारी हुआ है। सुल्तानपुर की कोर्ट ने मौर्य को आगामी 24 जनवरी तक पेश होने का आदेश दिया है।

जानकारी के अनुसार साल 2014 में देवी-देवताओं के खिलाफ आपत्तिजनक भाषण मामले में कोर्ट में हाजिर नहीं होने पर बुधवार को सुल्तानपुर के एमपी-एमएलए कोर्ट के अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ने राज्य के पूर्व श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ पूर्ववत जारी गिरफ्तारी वारंट को फिर से जारी करने का आदेश दिया है। अब इस मामले में 24 जनवरी को सुनवाई की तारीख तय हुई है।


बता दें कि एक दिन पहले स्वामी प्रसाद मौर्य ने योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री पद से इस्तीफा देते हुए बीजेपी सरकार पर पिछड़ों और दलितों की उपेक्षा का आरोप लगाया था। इसके बाद उन्होंने सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की थी, जिसके बाद से उनके सपा में जाने की चर्चा है। हालांकि, खुद उन्होंने अभी सपा में जाने की पुष्टि नहीं की है, लेकिन साफ कहा है कि उन्होंने बीजेपी छोड़ दिया है।

यूपी चुनाव से ठीक पहले योगी सरकार से इस्तीफा देकर और बीजेपी छोड़ने का ऐलान कर स्वामी प्रसाद मौर्य यूपी की राजनीति के सबसे चर्चित चेहरा बने हुए हैं। मौर्य के बाद मंगलवार को तीन और विधायकों ने बीजेपी छोड़ने का ऐलान कर दिया था। इनमें बांदा के ब्रजेश प्रजापति, शाहजहांपुर के रोशन लाल वर्मा और कानपुर के भगवती सागर शामिल हैं। इसके बाद आज एक अन्य मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी मंत्री पद से इस्तीफा देकर योगी सरकार को हिला दिया है। ऐसे में मौर्य के खिलाफ वारंट जारी होना दबाव की राजनीति मानी जा रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 12 Jan 2022, 5:56 PM