सावधान! आ रहा है तबाही का चक्रवाती तूफान 'गुलाब', जानें कब किस तट को करेगा पार

मौसम विभाग ने कहा कि रविवार देर रात और सोमवार सुबह तक पूर्व-मध्य और इससे सटे उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी में समुद्र की स्थिति बहुत खराब और उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और ओडिशा, पश्चिम बंगाल और उत्तरी आंध्र प्रदेश के साथ उच्च रहेगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

चक्रवाती तूफान 'गुलाब' रविवार की सुबह तक पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी पर केंद्रित था, जो ओडिशा के गोपालपुर से लगभग 270 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व और आंध्र प्रदेश में कलिंगपट्टनम से 330 किमी पूर्व में है। इसकी जानकारी भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दी। आईएमडी के नवीनतम बुलेटिन के अनुसार, इसके लगभग पश्चिम की ओर बढ़ने और कलिंगपट्टनम और गोपालपुर के बीच उत्तर आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के तटों को पार करने की संभावना है।

लैंडफॉल के समय आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, सोमपेटा, विजयनगरम, गंजम जिलों के निचले इलाकों में खगोलीय ज्वार से लगभग 0.5 मीटर की ऊंचाई पर ज्वार की लहर की संभावना है। सोमवार को भूस्खलन के बाद, दक्षिण छत्तीसगढ़ में छिटपुट स्थानों पर बहुत भारी और अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है। ओडिशा, तेलंगाना और विदर्भ में अलग-अलग स्थानों पर भी बहुत भारी वर्षा और तटीय पश्चिम बंगाल और उत्तरी छत्तीसगढ़ में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है।


आईएमडी ने कहा, रविवार देर रात और सोमवार सुबह तक पूर्व-मध्य और इससे सटे उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी में समुद्र की स्थिति बहुत खराब और उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और ओडिशा, पश्चिम बंगाल और उत्तरी आंध्र प्रदेश के साथ-साथ उच्च रहेगी। प्रभावित क्षेत्रों के मछुआरों को पानी में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 26 Sep 2021, 1:04 PM