सावधान! तेजी से फैल सकता है कोरोना का JN.1 वेरिएंट, अलर्ट मोड पर सरकार, WHO ने बताया कितना है खतरनाक

WHO ने कहा है कि कोरोना वायरस अपना स्वरूप लगातार बदल रहा है। WHO ने कहा कि मौजूदा वैक्सीन इसमें कारगर है और इसके जोखिम से मरीजों को बचाती हैं। WHO लगातार मामलों की निगरानी रख रहा है और एडवाइजरी भी जारी की है।

फोटो: Getty images
फोटो: Getty images
user

नवजीवन डेस्क

WHO ने हाल के समय में कोरोना महामारी की बढ़ती स्थितियों के बीच बड़ी हिदायत दी है। साथ ही सांस संबंधी बीमारियों के बढ़ने और कोरोना के नए सबवैरिएंट जेएन.1 को लेकर दुनिया के कई देशों को अलर्ट कर दिया है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि कोरोना वायरस अपना स्वरूप लगातार बदल रहा है। WHO ने कहा कि मौजूदा वैक्सीन इसमें कारगर है और इसके जोखिम से मरीजों को बचाती हैं। WHO लगातार मामलों की निगरानी रख रहा है और एडवाइजरी भी जारी की है। इसमें कहा गया है कि लोग भीड़-भाड़ वाले, बंद या खराब हवा वाले इलाकों में मास्क पहनें। साथ ही जहां तक संभव हो दूसरों से सुरक्षित दूरी बनाए रखें। WHO ने यह भी कहा कि इससे लोगों को ज्यादा खतरा नहीं है।

भारत में भी एस सब-वेरिएंट का एक मामला केरल से आ चुका है। ऐसे में केंद्र सरकार ने गंभीरता दिखाते हुए सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करने का ऐलान किया है। वहीं अलग-अलग राज्यों में भी सरकारें एडवाइजरी जारी कर रही हैं।

कर्नाटक के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री दिनेश गुंडू राव ने वरिष्ठ नागरिकों और अन्य बीमारियों से पीड़ित लोगों को मास्क पहनने की सलाह दी। उनकी यह टिप्पणी केरल और अन्य राज्यों में कोविड-19 मामलों में वृद्धि के बाद आई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;