JNU में हमला करने वाली ABVP की छात्रा का ऑडियो आया सामने, साथी से कहा- ‘प्लीज किसी को मत बताना मैं थी वहां’

डीयू की छात्र नेता कवलप्रीत कौर ने एक ट्वीट कर दावा किया है कि तस्वीरों में दिख रही लड़की कोमल शर्मा है। कौर ने अपने ट्वीट में ऑडियो और चैंटिग भी शेयर किया है। जिसमें कोमल शर्मा अपने चैट में सामने वाली से कह रही है कि प्लीज आप किसे को मत बताना मैं थी वहां।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जेएनयू में रविवार को हमला करने वाले कौन थे, वे नकाबपोश कौन थे जिन्होंने करीब 4 घंटे तक छात्रों और टीचरों पर लाठी-डंडों से हमला करते रहे और तांडव मचाते रहे। पुलिस इन सभी सवालों के जवाब दो दिनो के बाद भी खंगाल रही है। लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल व्हाट्स अप ग्रुप के चैट और कुछ तस्वीरें इस ओर साफ इशारा कर रही हैं कि इस हमले के पीछे एबीवीपी का हाथ हो सकता है। जेएनयू की छात्रसंघ अध्यक्ष आईशी घोष ने भी हमले का आरोप एबीवीपी पर लगा चुकी हैं। ऐसे में अब एक ऑडियो वायरल हो रहा है, जिसे कोमल शर्मा का बताया जा रहा है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि कोमल शर्मा एबीवीपी से जुड़ी हैं और डीयू की छात्रा हैं।

गौरतलब है कि जेएनयू हमले में एक तस्वीर काफी वायरल हुआ था। जहां दो लड़कों के साथ एक लड़की ने चेहरा ढककर जेएनयू के के छात्रों पर हमला किया था। गौर से देखेंगे तो इस वायरल तस्वीर में लड़की ने रेड और वाइट कलर की चेक शर्ट को पहना हुआ है। अब डीयू की छात्र नेता कवलप्रीत कौर ने एक ट्वीट कर दावा किया है कि तस्वीरों में दिख रही लड़की कोमल शर्मा है। कवलप्रीत कौर ने अपने ट्वीट में ऑडिया और चैंटिग भी शेयर किया है और दावा किया है कि कोमल शर्मा ने हमला किया है।

चैंटिंग के मुताबिक, “जेएनयू में क्या हो रहा है तुम्हे पता है? उसका जवाब कोमल न में देती है।ओह, जहां तक मुझे याद है मैंने तुम्हें आज देखा था। तुम क्या रेड और वाइट चेक वाली शर्ट पहनी थी?” इस सवाल पर कोमल हां में जवाब देती है। फिर सामने वाला कहता है, “मैंने तुमको देखकर हाथ भी हिलाया था। मुनिरिका की तरफ थी न।” इस पर भी कोमल ने हां में जवाब देती है।

इन सवालों से घबराई कोमल शर्मा ने फिर सामने वाले को ऑडियो मैसेज भेजती है। उसमें कहती है, “दी प्लीज किसी को मत बताना। मेरा फोटो वारयरल हो रहा है, तो प्लीज किसी को मत बताना की आपने मुझे देखा था।” हालांकि इस वायरल ऑडियो की पुष्टी नवजीवन नहीं करता है।

दूसरी ओर सोमवार को अंग्रेजी अखबार ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ में छपी खबर के मुताबिक, जेएनयू में हुए हमले में कई ग्रुप्स की व्हाट्सएप चैट वायरल हो रहे हैं। इन व्हाट्सएप ग्रुप में लगभग एबीवीपी के आठ पदाधिकारी, जेएनयू के मुख्य प्रॉक्टर, दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेज के एक शिक्षक और दो पीएचडी होल्डर शामिल हैं। इन सभी ग्रुप्स में छात्रों के साथ मारपीट और कैंपस में हमले को अंजाम देने के मैसेज भेजे गए थे।

इसे भी पढ़ें: JNU मामले में नया खुलासा, हमले के दौरान कई व्हाट्सएप ग्रुप में सक्रिय थे 8 ABVP सदस्य और यूनिवर्सिटी प्रॉक्टर

बता दें कि रविवार को जेएनयू में बढ़ी हुई फीस के खिलाफ छात्र प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान कई नकाबपोश उपद्रवी वहा पहुंचे कैंपस में छात्रों और प्रोफेसर के साथ मारपीट की। इतना ही नहीं नकाबपोश उपद्रवियों ने संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया। इस हमले में 34 छात्र घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। हालांकि अब छात्रों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। वहीं घटना के बाद दो हॉस्टल वार्डन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

Published: 7 Jan 2020, 2:07 PM
लोकप्रिय
next