अयोध्या केस: सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट नाराज, कहा- तय कार्यक्रम के हिसाब से नहीं हो रही है चीजें

अयोध्या केस की सुनवाई के दौरान सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा कि चीजें हमारे कार्यक्रम के अनुसार नहीं चल रही हैं। हम समय के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को अयोध्या जमीन विवाद मामले में तय समय सीमा में सभी दलीलों को पूरा नहीं करने को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की। एक मुस्लिम पक्षकार की ओर से पेश वरिष्ठ वकील शेखर नाप्दे अदालत में बहस कर रहे थे। इसी दौरान मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई ने कहा, “चीजें हमारे कार्यक्रम के अनुसार नहीं चल रही हैं। हम समय के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।”

मुख्य न्यायाधीन की अध्यक्षता में पांच न्यायाधीशों की एक संविधान पीठ मामले की सुनवाई कर रही है। कोर्ट ने बुधवार को कहा था कि अयोध्या जमीन विवाद से जुड़े सभी पक्ष अपनी-अपनी दलीलें 18 अक्टूबर तक पूरी कर लें। सीजेआई ने कहा था कि अयोध्या में 2.77 एकड़ विवादित भूमि पर स्वामित्व चाहने वाले किसी भी पक्ष को इसके बाद दलीलें रखने के लिए एक भी दिन का अतरिक्त समय नहीं दिया जाएगा।


मुख्य न्यायाधीश ने इसके बाद प्रत्येक पक्ष के वकीलों के लिए समय-सीमा तय की थी और सभी पक्षों को इसके भीतर ही अपनी दलीलें पूरी करने को कहा था। मुख्य न्यायाधीश 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा था, “यदि 18 अक्टूबर तक सभी दलीलें पूरी हो जाती हैं, तो चार हफ्तों में फैसला देना अपने आप में चमत्कार से कम नहीं होगा।”

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;