खराब मौसम और किसानों के विरोध के चलते रद्द हुई पीएम की फिरोजपुर रैली, गृह मंत्रालय ने बताया सुरक्षा में चूक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब के फिरोजपुर में होने वाली रैली रद्द हो गई है। इसका कारण खराब मौसम बताया गया है। इसके अलावा किसानों के विरोध के चलते भी इस रैली को रद्द किया जाना बताया जा रहा है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

करीब दो साल बाद चुनावी मौसम में पंजाब के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सीमावर्ती राज्य में मौसम और किसानों का सामना करना पड़ा, नतीजतन फिरोजपुर में होने वाली उनकी रैली को रद्द कर दिया गया। गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि, “आज सुबह प्रधानमंत्री का विमान भठिंडा में लैंड हुआ जहां से प्रधानमंत्री को हैलीकॉप्टर द्वारा हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्थल जाना था। लेकिन बारिश और मौसम की खराबी के कारण हैलीकॉप्टर उड़ान नहीं भर सका क्योंकि विजिबिलिटी काफी कम थी।” गृह मंत्रालय ने कहा कि करीब 20 मिनट तक इंतजार के बाद तय किया गया कि प्रधानंमत्री सड़क के रास्ते शहीद स्मारक जाएंगे। इस यातरा में करीब दो घंटे लगने वाले थे। लेकिन रास्ते में किसानों के विरोध के कारण रास्ता बंद था, जिसके चलते प्रधानमंत्री को वापस भठिंडा एयरपोर्ट लौटना पड़ा।

गृह मंत्रालय ने कहा है कि, “प्रधानमंत्री के सड़क के रास्ते जाने की सूचना पंजाब पुलिस को दे दी गई थी और उनके द्वारा सुरक्षा के जरूरी इंतजाम की जानकारी मिलने के बाद ही प्रधानमंत्री सड़क मार्ग से रवाना हुए थे। लेकिन शहीद स्मारक से करीब 30 किलोमीटर पहले जब प्रधानमंत्री का काफिला एक फ्लाइओवर पर पहुंचा तो वहां प्रदर्शनकारी किसानों ने रास्ता जाम कर दिया था।” गृह मंत्रालय के मुताबिक प्रधानमंत्री का काफिला करीब 15-20 मिनट तक फ्लाइओवर पर फंसा रहा, जिसके बाद उन्हें वापस भठिंडा एयरपोर्ट ले जाने का फैसला हुआ। गृह मंत्रालय ने इसे प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक कहा है।


गृह मंत्रालय ने इस मामले में तेवर दिखाएं हैं और पंजाब शासन से जवाब तलब किया है। मंत्रालय का कहना है कि प्रधानमंत्री के दौरे की सारी जानकारी पंजाब सरकार को बता दी गई थी। प्रक्रिया के मुताबिक सरकार को लॉजिस्टिक्स, सुरक्षा और कंटिंजेंसी प्लान तैयार रखना था। इसके लिए पंजाब सरकार को अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किए जाने चाहिए थे, जो कि नहीं किए गए थे। गृह मंत्राल. ने इस ‘चूक’ के लिए जवाबदेही तय करने को कहा है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia