बदायूं गैंगरेप मामले में डैमेज कंट्रोल में जुटी सरकार! मुख्य आरोपी महंत की गिरफ्तारी के बाद हल्का इंचार्ज भी निलंबित

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में 50 वर्षीय महिला के साथ हैवानियत के बाद हत्या के मामले में हल्का इंचार्ज अमरजीत सिंह को निलंबित कर दिया है। वहीं मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

पवन नौटियाल

उत्तर प्रदेश के बदायूं में महिला से गैंगरेप और हत्या मामले के बाद योगी सरकार में कानून व्यवस्था पर उठ रहे सवालों से बचने के लिए अब कार्रवाई की जा रही है। सरकार डैमेज कंट्रोल में जुटी हुई है, यही वजह है कि लगातार कार्रवाई हो रही है। मामले में मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण की गिरफ्तारी के बाद अब एसपी ने हल्का इंचार्ज अमरजीत सिंह को निलंबित कर दिया है।

आपको बता दें, निलंबित एसओ राघवेंद्र प्रताप और हल्का इंचार्ज अमरजीत सिंह के खिलाफ धारा 166 A के तहत उघैती थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में लापरवाही बरतने पर तत्कालीन थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला से बलात्कार की पुष्टि हुई है। इधर, लगातार आरोप लग रहे हैं कि इस मामले में पुलिस ने लापरवाही बरती है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी इस मामले को उठाया था। प्रियंका गांधी ने कहा था महिला सुरक्षा पर यूपी सरकार की नियत में खोट है।

वहीं जिस मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उसपर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। वह दो दिन से फरार चल रहा था। डीएम कुमार प्रशांत ने गुरुवार आधी रात को मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मुख्य आरोपी सत्यनारायण एक गांव में अपने अनुयाई के घर में छिपा हुआ था, जहां से उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

आपको बता दें, बदायूं से बुधवार को दिल दहला देने वाली घटना की खबर सामने आई थी। उघैती इलाके में रविवार रात 50 साल की महिला अपने गांव के मंदिर में पूजा करने गई थी। इसके बाद महिला का शव संदिग्ध हालात में मिला था। मामले की जांच की और पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद गैंगरेप की पुष्टि हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के गुप्तांग में रॉड जैसी कोई चीज डालने की बात सामने आई थी। महिला की बाईं पसली, बायां पैर और बायां फेफड़ा भी वजनदार प्रहार से क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। महिला की मौत की वजह अधिक रक्तस्राव और सदमा लगना बताया गया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next