कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला

प्रियंका गांधी ने आज मथुरा में हर कदम पर किसानों के साथ खड़े रहने का ऐलान करते हुए कहा कि जब तक किसान लड़ते रहेंगे, तब तक हर दुख में, हर दर्द में कांग्रेस उनके साथ रहेगी। उन्होंंने कहा कि कांग्रेस की सरकार आते ही सबसे पहले इन कानूनों को रद्द किया जाएगा।

फोटोः @INCUttarPradesh
फोटोः @INCUttarPradesh
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने मथुरा के पालीखेड़ा मैदान में किसान महापंचायत को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने बीजेपी सरकार पर जमकर हमले किए। प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी पर सीधा हमला करते हुए कहा, "गोवर्धन पर्वत को संभाल कर रखिए, ये कहीं इसे भी बेचने की कोशिश न करें।”

उन्होंने कहा कि केंद्र ने खरबपति मित्रों के लाखों-करोड़ का कर्जा माफ किया है। लेकिन किसानों का एक भी कर्ज माफ नहीं किया। फसल बीमा के नाम पर किसानों से खरबपति मित्रों ने 26 हजार करोड़ रुपये कमाए हैं। इन कृषि कानूनों को भी अरबपतियों के लिए बनाया गया है। किसानों का अपमान किया जा रहा है।”

भगवान श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा में किसानों के समर्थन में हुंकार भरते हुए उन्होंने कहा कि इस सरकार का अहंकार भगवान श्रीकृष्ण तोड़ेंगे। प्रियंका ने कहा कि यह धरती मथुरा की धरती है। ये धरती अहंकार को तोड़ती है। भगवान श्रीकृष्ण ने अहंकार में डूबे श्रीइंद्र देवजी के अहंकार को तोड़ने के लिए गोवर्धन पर्वत को उठाकर इस धरती के लोगों की रक्षा की थी। तब से यहां अन्नकूट गोवर्धन पूजा होती है।

प्रियंका गांधी ने आगे कहा, "आज बीजेपी सरकार ने भी उन किसानों के लिए अहंकार पाल लिया है, जिन्होंने देश की सीमा पर अपने बेटों को शहीद होने के लिए भेजा है। 90 दिनों से किसान अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं। 215 किसान शहीद हुए। सरकार ने बिजली काटी, पानी बंद किया, उन्हें प्रताड़ित किया। लेकिन उनकी सुनवाई नहीं की गई। दुनिया के कोने-कोने में घुमने वाले प्रधानमंत्री किसानों से बात करने दिल्ली के बॉर्डर तक नहीं पहुंच पाए।"

कांग्रेस महासचिव ने रामधारी सिंह दिनकर की एक कविता पढ़कर कहा कि जब नाश मनुष्य पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है। प्रियंका ने कहा कि पीएम अहंकारी हैं और उनका अहंकार भगवान श्रीकृष्ण तोड़ेंगे। पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि उन्होंने दो हवाई जहाज करीब 16,000 करोड़ खर्च करके खरीद लिए, लेकिन गन्ना किसानों का 15,000 करोड़ बकाया नहीं दिया।

प्रियंका गांधी ने कहा कि “पीएम मोदी किसान विरोधी हैं, कानून बनाते समय किसानों से पूछा तक नहीं गया। नोटों की खेती करने वालों ने ये कृषि कानून बनाया है। ये कानून उन्हीं के लिए बना है। अरबपतियों के लिए बनाए गए हैं ये कृषि कानून।" प्रियंका बोलीं कि पता नहीं पीएम मोदी को किसानों से कौन सी दुश्मनी है कि पीएम संसद में भी किसानों का अपमान करते हैं। इनके मंत्री किसानों को आतंकवादी बोलते हैं, जब राहुल गांधी ने संसद में मौन रखा तो सरकार ने उसमें हिस्सा नहीं लिया।

प्रियंका गांधी ने हर कदम पर किसानों के साथ खड़े रहने का ऐलान करते हुए कहा कि जब तक किसान लड़ते रहेंगे, तब तक कांग्रेस पार्टी हर दुख में, हर दर्द में उनके साथ शामिल रहेगी। जैसे ही कांग्रेस की सरकार आएगी, इन कानूनों को सबसे पहले रद्द किया जाएगा। इस सरकार को भी भगवान श्रीकृष्ण की वाणी सुनाई देगी। जो जनता कहती है, वो सही है।

कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला
कहीं गोवर्धन पर्वत को न बेच दे मोदी सरकार, प्रियंका गांधी ने मथुरा किसान पंचायत में बीजेपी पर बोला हमला

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 23 Feb 2021, 6:07 PM
लोकप्रिय
next