दिवाली और छठ पूजा से पहले आतंकियों के निशाने पर बिहार, इन 15 जिलों में जारी किया गया अलर्ट, एजेंसियां चौकस

दिवाली और छठ पूजा से पहले खुफिया एजेंसियों से मिले इनपुट के अनुसार बिहार में आतंकी किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में है। एटीएस मुख्यालय ने राज्य के सभी जिलों के साथ-साथ रेल पुलिस और सभी सुरक्षा-खुफिया तंत्र को अलर्ट कर दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में त्योहार के मौसम में आतंकी हमलों और रेलवे स्टेशनों पर अत्यधिक यात्रियों की भीड को देखते हुए रेल पुलिस, और सभी सुरक्षा और खुफिया तंत्र को अलर्ट कर दिया गया है। सूत्रों का कहना है कि इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) ने बिहार में इस्लामिक आतंकी संगठनों द्वारा सार्वजनिक स्थानों के अलावा सुरक्षा बलों और उनसे जुड़े संस्थानों और कार्यालयों पर हमले की आंशका व्यक्त की है।

इस सूचना के बाद राज्य के कम से कम 15 जिलों में पुलिस, सुरक्षा बलों को अलर्ट कर दिया है तथा सुरक्षा बलों के कार्यालयों, कैंपों पर विशेष निगरानी रखी जा रही है। बड़े रेलवे स्टेशनों और भीड़भाड वाले क्षेत्रों पर भी सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।


पटना (रेल) के पुलिस अधीक्षक सुजीत कुमार ने बताया, “पर्व-त्योहार के मौके पर बिहार आने वाले यात्रियों की संख्या में काफी वृद्घि हो जाती है। इसके मद्देनजर सभी रेल पुलिस उपाधीक्षक से लेकर थाना प्रभारी तक को सतर्क कर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर निर्देश दिए गए हैं। नक्सली गतिविधियों को लेकर भी अलर्ट कर दिया गया है।”

आतंकी हमलों के विषय के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ऐसी कोई सूचना नहीं है, लेकिन एहतियातन सभी बड़े स्टेशनों पर आने-जाने वालों पर निगाह रखी जा रही है। पुलिस मुख्यालय सूत्रों के मुताबिक राज्य के पटना, नालंदा, जहानाबाद, गया, रोहतास, कैमूर, बक्सर, आरा, औरंगाबाद, नवादा और मुजफ्फरपुर जिले में अधिक सतर्कता बरती जा रही है। रविवार को पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा पटना सहित राज्य के कई इलाकों में आने-जाने वाले वाहनों की सघन जांच की गई।


पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि रविवार को पटना रेलवे स्टेशन पर प्लेटफॉर्म, वेटिंग हॉल और रेलवे ट्रैक के आसपास सघन जांच अभियान चलाया गया। कई यात्रियों की भी तलाश ली गई और कई यात्रियों के सामानों की जांच की गई।

गौरतलब है कि इससे पहले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनएआई) ने 14 अक्टूबर को बंगाल लेकर पंजाब और कश्मीर से लेकर केरल तक आतंकी साजिशों को लेकर आगाह किया। इस दौरान एनआईए के डीजी योगेश चंदर ने कहा था कि जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश (जेएमबी) भारत के कई राज्यों जैसे बिहार, महाराष्ट्र, केरल और कर्नाटक में सक्रिय है।

इसे भी पढ़ें: आतंकवाद पर NIA के डीजी का बड़ा खुलासा, बोले- निशाने पर बिहार, महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु, अलर्ट जारी

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 21 Oct 2019, 7:16 PM