बंगाल चुनाव: नंदीग्राम में मतदान कल, CRPF की 22 कंपनियां तैनात, हेलीकॉप्टरों से हवाई निगरानी, जानिए क्या है तैयारी

अब सबकी निगाहें पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम पर टिकी हुई हैं। आठ चरणों वाले विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में नंदीग्राम में गुरुवार को मतदान होगा। चुनाव आयोग ने नंदीग्राम के सभी मतदान केंद्रों को पहले ही संवेदनशील घोषित कर दिया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

अब सबकी निगाहें पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम पर टिकी हुई हैं। आठ चरणों वाले विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में नंदीग्राम में गुरुवार को मतदान होगा। चुनाव आयोग ने नंदीग्राम के सभी मतदान केंद्रों को पहले ही संवेदनशील घोषित कर दिया है। यहां सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 22 कंपनियों को बुधवार को 355 मतदान केंद्रों पर तैनात किया गया है। यहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के बीच सीधा मुकाबला है। इस सीट पर दोनों की प्रतिष्ठा दांव पर है।

केंद्रीय बलों के जवानों को बुधवार सुबह से ही नंदीग्राम के तेल्हाली, बोयल, तेन्गुआ और रेयापाड़ा जैसे इलाकों में मार्च करते हुए देखा गया। हेलीकॉप्टरों से हवाई निगरानी की जा रही है।

गौरतलब है कि राज्य की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने नंदीग्राम में केंद्रीय बलों के जवानों की भूमिका पर उंगली उठाई है। ममता बनर्जी ने सभी महिला मतदाताओं से 1 अप्रैल को वोट डालने जाने वक्त मास्क पहनने का आह्वान भी किया है, ताकि "केंद्रीय बल के जवान उन्हें मतदान केंद्रों पर परेशान न कर सकें"।


दूसरे चरण के मतदान से पहले पूर्वी मिदनापुर के नंदीग्राम ब्लॉक-2 में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच मंगलवार रात को बोयल और गोकुलनगर जैसे इलाकों में छिटपुट हिंसा की घटनाएं हुईं। दोनों दलों के कार्यकर्ताओं की ओर से बम फेंके गए।

तृणमूल सुप्रीमो ने आरोप लगाया है कि नंदीग्राम में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव तंत्र को बाधित करने के लिए बाहरी लोग घुय आए हैं। इसके बाद विभिन्न प्रवेश बिंदुओं पर नाका चेकिंग की जा रही है। चुनाव आयोग के सूत्रों के अनुसार, नंदीग्राम में मतदान प्रक्रिया की निगरानी के लिए पश्चिम बंगाल में मुख्य निर्वाचन कार्यालय (सीईओ) के ऑफिस में एक विशेष सेल का गठन किया जाएगा।

कुल मतदान केंद्रों में से 75 प्रतिशत की वेबकास्टिंग होगी, जिसका अर्थ है कि नंदीग्राम के 267 बूथों पर कई कैमरे लगाए जाएंगे। सूत्रों ने कहा कि चुनाव आयोग के अधिकारी अपने नियंत्रण कक्ष से नंदीग्राम के सभी वीडियो फुटेज की निगरानी करेंगे।

नंदीग्राम में पंजीकृत 2.75 लाख मतदाताओं में से लगभग 62,000 अल्पसंख्यक मतदाता हैं। दूसरे चरण में कुल 30 विधानसभा क्षेत्रों में वोटिंग होगी। 27 मार्च को पहले चरण में इतनी ही सीटों पर मतदान हुआ था।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 31 Mar 2021, 9:03 PM