बेंगलुरू में बारिश से बुरा हाल, हवाईअड्डे पर भरा पानी , यात्री परेशान

बेंगलुरू के केम्पे गौड़ा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (केआईएएल) में लगातार हो रही बारिश से जलभराव की समस्या पैदा हो गई, जिससे अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

बेंगलुरू के केम्पे गौड़ा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (केआईएएल) में लगातार हो रही बारिश से जलभराव की समस्या पैदा हो गई, जिससे अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। सोमवार को हवाईअड्डा परिसर एक 'टाउन बस स्टैंड' में बदल गया, क्योंकि अंतरोष्ट्रीय यात्रियों को टर्मिनल तक पहुंचाने वाले स्थानीय लोग विभिन्न 'एयरपोर्ट टर्मिनल' की घोषणा करते पाए गए।

भारी बारिश के कारण हवाईअड्डे के टर्मिनल के पास घुटने तक पानी भर जाने से यात्रियों को काफी परेशानी हुई क्योंकि टैक्सी घंटों तक फंसी रही और उनमें से कुछ बंद हो गई।केआईएएल के परिसर में सैकड़ों कैब बारिश के पानी में आंशिक रूप से डूबे रहे, जिसके बाद इनमें तकनीकी खराबी आ गई।


हवाईअड्डा टर्मिनल की यात्रा के लिए अपने सामान के साथ ट्रैक्टर पर सवार अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो गए हैं। हालांकि पुलिस विभाग समेत अधिकारियों ने सोमवार आधी रात तक स्थिति पर काबू पा लिया।

सी.के. बाबा, डीसीपी (नॉर्थ ईस्ट डिवीजन) ने बताया, "पुलिस विभाग, केआईएएल में हवाई अड्डे के अधिकारियों के साथ, जलभराव को दूर करने में मदद की और देर रात तक टोल गेट के पास यातायात की सुविधा मुहैया कराई।"

उन्होंने कहा कि पानी को बाहर निकालने के लिए पंपिंग मशीनों का इस्तेमाल किया गया और सभी वरिष्ठ अधिकारी हवाईअड्डा परिसर में स्थिति का प्रबंधन और निगरानी करने के लिए मौजूद थे। सजीत वीजे, डीसीपी ट्रैफिक (नॉर्थ डिवीजन) ने कहा कि उन्होंने मंगलवार सुबह स्थिति की समीक्षा की और पानी को बहा दिया गया है।


हवाईअड्डा अधिकारियों ने कहा कि टर्मिनल के पास का पानी बहा दिया गया है। सूत्रों ने कहा कि केआईएएल के परिसर में नम्मा मेट्रो के चल रहे काम और अन्य विकासात्मक गतिविधियों के कारण जलभराव हुआ। हालांकि, मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि राज्य की राजधानी बेंगलुरु में लगातार बारिश जारी रहेगी और हवाईअड्डा अधिकारी स्थिति को संभालने की तैयारी कर रहे हैं।

इस बीच, भारी बारिश से पूरा सिलिकॉन शहर प्रभावित हुआ क्योंकि कई इलाकों में घरों में पानी भर गया। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि बेंगलुरु और बेंगलुरु ग्रामीण जिलों सहित कर्नाटक राज्य के 18 जिलों में भारी बारिश होगी। अधिकांश जिलों में जलाशय भरे हुए हैं और कई जिलों में लोग बाढ़ के खतरे का सामना कर रहे हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia